सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2021-ऑनलाइन आवेदन कैसे करे? |

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना | Suman Yojana | सुमन योजना | Surakshit Matritva Aashwasan  Suman Yojana  | Surakshit Matritva Aashwasan  Suman Yojana Registration | प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान 

PM Surakshit Matritva Aashwasan Suman Yojana- केंद्रीय स्वास्थ्य डॉ. हर्षवर्धन द्वारा 0 अक्टूबर 2019 को सुरक्षित मातृत्व आश्वासन योजना की शुरुआत की है। जिसे सुमन योजना भी कहतें है। देश में स्वास्थ्य व्यवस्था को सुधारने के लिये सरकार द्वारा आम नागरिको को किसी तरह की परेशानी से बचाने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं शुरू की जाती है। जिसमे से एक सुमन योजना योजना भी है। इस लेख में आज हम आपको सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना की जानकारी प्रदान कर रहे है। योजना से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारी के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहें।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2021

वर्तमान समय भी में देश में बहुत सी महिलाऐं आर्थिक कमजोरी के के कारण प्रसव घर पर ही करवाती है। जिसमे माँ और बच्चे दोनों को जान का खतरा रहता है। सरकार द्वारा इस समस्या से निपटने के लिए सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से सरकार गर्भवती महिला का सारा खर्च स्वयं वहन करेंगी। सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को निशुल्क दवाएं प्रदान की जायेगी, तथा प्रसव तथा प्रसव के 6 महीने तक माँ और बच्चे के दवाइयां का सारा खर्च सरकार द्वारा प्रदान किया जायेगा।

PM Surakshit Matritva Aashwasan Suman Yojana Highlights
आर्टिकलसुरक्षित मातृत्व आश्वासन योजना
उद्देश्यगर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं की स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करना
विभागस्वास्थ्य विभाग
लाभार्थीगर्भवती महिला व नवजात शिशु
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

Surakshit Matritva Aashwasan Suman Yojana का उद्देश्य 

  • इसका उद्देश्य देश में मातृत्व मृत्यु दर तथा शिशु मृत्यु दर को कम करना है।
  • माँ और बच्चे की जान को खतरा कम करना है।
  • गर्भवती महिलाओं को निशुल्क दवाएं प्रदान की जायेगी।
  • प्रसव के 6 महीने तक माँ और बच्चे के दवाइयां भी सरकार की तरफ से मुफ्त में मिलेगी।

Click Here For :- PMJAY-आयुष्मान भारत आरोग्य कार्ड, कैसे करें आवेदन

 Surakshit Matritva Aashwasan Suman Yojana के लाभ

  • प्रसव का सारा खर्च सरकार द्वारा उठाया जाएगा।
  • प्रसव के पहले कोई टेस्ट करवाना हो तो वह भी सरकार ही करवाएगी।
  • इसके तहत गर्भवती महिला को प्रसव से पहले चार बार मुफ्त जांच का अधिकार होगा|
  • प्रसव के छह महीने बाद तक सरकार बच्चे और माँ, दोनों के लिए दवाईयों के इलाज का पूरा भुगतान करेगी।
  • नवजात बच्चे के किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त होने की स्थिति में उसके इलाज का पूरा खर्च सरकार उठाएगी।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के तहत मिलने वाली निशुल्क लाभ 

  • प्रसव से पहले कम से कम चार बार चेक-अप
  • पहली तिमाही के दौरान एक चेक-अप
  • प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत एक चेक-अप
  • आयरन फोलिक एसिड सप्लीमेंटेशन
  • टिटनेस डिप्थेरिया टीका
  • घर से अस्पताल तक निशुल्क परिवहन सुविधा
  • गर्भावस्था के दौरान जटिलताओं के कारण सी-सेक्शन की निशुल्क सुविधा
  • घर से स्वास्थ्य संस्थानों तक मुफ्त परिवहन भी प्रदान करता है।

सुमन योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर आप इसके लिए आवेदन सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर सकते है। अगर आप सुमन योजना में रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हो तो उसके लिये आपको सरकारी अस्पताल में जाकर 2 रूपये का एक परचा बनवाना पड़ेगा जिसकी सहायता से आप सुमन योजना में रजिस्ट्रेशन करा सकते है। सुमन योजना से संबंधित किसी भी प्रकार जानकारी प्राप्त होने पर हम आपको आर्टिकल के माध्यम से सूचना प्रदान करते रहेंगे। सुमन योजना से सम्बंधित किसी भी प्रकार की अपडेट के लिए हमारी वेबसाइट https://yojanasarkari.in के साथ बने रहे।

Helpline Number 

  • योजना के तहत गर्भवती महिला को घर से अस्पताल पहुंचने के लिए फ्री ऐम्बुलेंस सेवा भी प्रदान की जायेगी।
  • महिला को अस्पताल ले जाने के लिए टोल फ्री नंबर 102 या 108 पर कॉल करना होगा।
  • इस सेवा में जीरो टॉलरेंस नीति अमल होगी ओर गर्भवती महिलाओं को समय अनुसार अस्पताल पंहुचा दिया जायेगा।

योजना से सम्बंधित महत्वपूर्ण FAQ

सुमन योजना (SUMAN YOJANA) के लिए आवेदन कैसे करें?

इसका अभी कोई ऑनलाइन पोर्टल नहीं बनाया गया है। आप सुमन योजना में रजिस्ट्रेशन करने के लिये आपको सरकारी अस्पताल में जाकर एक परचा बनवाना पड़ेगा जिसकी सहायता से आप सुमन योजना में रजिस्ट्रेशन करा सकते है।

सुमन योजना के क्या लाभ हैं?

इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश में मातृत्व मृत्यु दर तथा शिशु मृत्यु दर को कम करना है। इसके तहत सरकार गर्भवती महिलाओं को निशुल्क टेस्ट, दवाएं व इलाज प्रदान किया जायेगा।

Leave a Comment

9 + 1 =

error: Content is protected !!