उत्तराखंड भूलेख खाता खतौनी, उत्तराखंड भू -अभिलेख 2021

उत्तराखंड भूलेख  | Uttarakhand bhulekh |  भूलेख खाता खतौनी उत्तराखंड 2021 |  bhulekh khata khatoni Uttarakhand download

उत्तराखंड सरकार ने उत्तराखंड के लोगों के लिए ऑनलाइन पोर्टल तैयार किया गया है, जहाँ पर जाकर आप अपने खेतो की जमीन प्लॉट के खसरा, खतौनी की नकल प्रतिलिपि को घर बैठ कर डाऊनलोड कर सकते है। इससे आप भूमि के बारे मैं सारी जानकारी प्राप्त कर शक्ते हैं जैसे यानी जमीन का नक्शा,भूमि मालिक का नाम, गाँव के अलावा और भी अन्य जानकारी को देख सकते है।देवभूमि की मदद से, नागरिक अपने रिकॉर्ड ऑफ राइट (ROR) को मालिक के नाम, खाता संख्या, म्यूटेशन, विक्रेता आदि द्वारा देख सकते हैं।

Bhulekh Uttarakhand

उत्तराखंड भूलेख 2021

Uttarakhand bhulekh का सीधा मतलब है जमीन का ब्योरा या रिकॉर्ड रखना। bhulekh.uk.gov.in वेबसाइट के माध्यम से आप लोग घर बैठे बैठे ही अपनी जरुरी सुविधाएं जैसे भूमि या खाता, खसरा नक्शा, खतौनी के बारे में ऑनलाइन विवरण प्राप्त कर सकते हो। इस वेबसाइट से ये भी पता लगाया जा सकता है कि किस व्यक्ति के नाम पर कौन सा खाता नंबर हैं? किस भूमि का मालिक कौन हैं? या जमीन उस मालिक नाम पर हैं या नहीं?

Uttarakhand Land Record Highlights
आर्टिकल उत्तराखंड भू -अभिलेख
लागू किया सभी जिले
विभाग राजस्व और भूमि सुधार विभाग
वर्ष 2021
आधिकारिक वेबसाइट  Click Here

भूलेख खाता खतौनी के लाभ

  •  भूलेख खाता खतौनी उत्तराखंड की मदद से अपनी भूमि की जानकारी ऑनलाइन चेक कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन होने से आप की समय की बचत होगी।
  • इस सुविधा का लाभ कहीं से भी ले सकते हैं।
  • देवभूमि के लोगों को जमींन के बारे में जानकारी के लिए पटवारी के पास नहीं जाना पड़ेगा।।
  • Uttarakhand bhulekh खाता खतौनी योजना से कालाबाजारी में कमी आएगी।
  • ऐसी ही ऑनलाइन सुविधा उत्तर प्रदेश में यूपी भूलेख पोर्टल के माध्यम से दी जाती है।
  • भूलेख खाता खतौनी से लोग अपना खाता नंबर डालकर भूमि का सारा विवरण ले सकेंगे।

उत्तराखंड भू नक्शा, मैप नकल ऑनलाइन कैसे देखें?

यहाँ हम आपको बताएँगे कि आप कैसे अपने स्मार्ट फ़ोन या कंप्यूटर से भूलेख या खाता खतौनी कि नक़ल डाउनलोड कर सकते हैं
ऑनलाइन जमीन का रिकॉर्ड जानने के लिए उत्तराखंड सरकार ने ऑनलाइन पोर्टल देवभूमि की शुरुआत की है।

  • भूलेख खाता देखने के लिए सबसे पहले उत्तराखंड सरकार के ऑनलाइन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा 
  • फिर आपको जिला और फिर तहसील चुनना है।

  • इसके बाद ओके बटन पर क्लिक कीजिये।
  • ओके करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा जहाँ आपको अपने जनपद,तहसील व ग्राम के नाम का चयन करना होगा।
  • आप अपने ग्राम के पहले अक्षर के द्वारा भी अपने ग्राम के नाम की खोज कर सकते है।

Click Here For :- उत्तराखंड राशन कार्ड लिस्ट 2021

  • अब अपने खाता संख्या, खसरा/गाटा संख्या, क्रेता द्वारा, विक्रेता द्वारा, म्युटेशन दिनांक द्वारा तथा खातेदार के नाम से खतौनी नकल देख सकते है।

  • आपकी भूमि का पूरा विवरण कम्प्यूटर स्क्रीन में दिखाई देगा।
  • फिर आप इसका प्रिंट-आउट निकल कर अपने पास रख लीजिये।

Uttarakhand bhulekh (ROR) की अधिकृत प्रति कैसे प्राप्त करें?

  • उत्तराखंड के सभी निवासी अपने भूमि रिकॉर्ड के विवरण जैसे आरओआर, खसरा नंबर, खतौनी आदि की जांच ऑनलाइन कर सकते है। वह सभी विवरण पीडीऍफ़ फॉर्मेट में डाउनलोड व प्रिंट भी कर सकते है पर यह भूमि रिकॉर्ड की अधिकृत प्रति नहीं है।
  • आरओआर की अधिकृत प्रति प्राप्त करने के लिए नागरिकों को संबंधित तहसील के भूमि रिकॉर्ड कंप्यूटर केंद्र का दौरा करना पड़ता है। यहाँ आप कुछ निर्धारित शुल्क का भुगतान कर भूमि रिकॉर्ड की अधिकृत कॉपी प्राप्त कर सकते है। अधिकृत शुल्क का विवरण इस प्रकार है:-
      • ROR के पहले पेज के लिए 15 रुपये
      • ROR के बाद के पृष्ठों पर 5 रुपये

भूमि अभिलेखों खतौनी व आरओआर का महत्व

  • खतौनी की मदद से, कोई भी भूमि के शीर्षक और भूमि के स्वामित्व को सत्यापित कर सकता है।
  • एक बैंक खाता खोल सकते हैं।
  • किसी भी बैंक में ऋण के लिए आवेदन करते समय बैंक आपसे खसरा विवरण की मांग करता है।
  • पारदर्शी भूमि रिकॉर्ड प्रबंधन प्रणाली की सुविधा प्रदान करता है।
  • भूमि से संबंधित अपराधों जैसे अवैध संपत्ति, धोखाधड़ी आदि को कम करता है।
  • सिविल मुकदमेबाजी या किसी अन्य कानूनी उद्देश्य के लिए अदालत में पेश करने की आवश्यकता हो सकती है।
  • भूमि के विभाजन या बिक्री के लिए।
  • यह भूमि के अधिग्रहण का तरीका बताता है।
  • अपनी संपत्ति का व्यक्तिगत रिकॉर्ड रख सकते हैं।
  • चुनाव के समय उम्मीदवारों को अपनी हैसियत को प्रमाणित करने के लिए भूमि होने की स्थिति में भूलेख विवरण की आवश्यकता होती है।
  • यह भूमि पर सरकार / सार्वजनिक अधिकार की जाँच करने में मदद करता है।

भूलेख उत्तराखंड के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQ)

उत्तराखंड खसरा नंबर क्या होता है?

खसरा एक मुख्य भूमि अभिलेख है इसमें भूमि स्वामी की सभी जमीनों का खसरा नंबर,क्षेत्रफल और अन्य जानकारी मिलती है ।

उत्तराखंड खसरा खतौनी के लाभ क्या है?

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए जरुरी
रजिस्ट्री के लिए,
किसानो से जुडी सरकारी योजनाओं में,
मालिकाना हक का सबूत होता है

भूलेख उत्तराखंड खसरा खतौनी कैसे देखें?

भूलेख खाता देखने के लिए सबसे पहले उत्तराखंड सरकार के ऑनलाइन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा – देवभूमि भूलेख खाता पोर्टल OR भूलेख उत्तराखंड खाता पोर्टल। पूरी जानकारी जानने के लिए लेख को पढ़ें।

Leave a Comment

− 6 = 3

error: Content is protected !!