उत्तराखंड राशन कार्ड कैसे कैसे प्राप्त करें? uttarakhand ration card List 2020 in hindi

uttarakhand ration card | उत्तराखंड राशन कार्ड लिस्ट | ऑनलाइन राशन कार्ड कैसे बनाये? | uttarakhand-smart-ration-card in hindi

उत्तराखंड स्मार्ट राशन कार्ड : राशन कार्ड हम सबके लिए बहुत जरुरी है। यह केवल राशन के लिए नहीं बल्कि एड्रेस प्रूफ के लिए भी प्रयोग होता है , इसके बिना आजकल कोई भी सरकारी काम संभव नहीं है। इसलिए हम आपको आज ये बताएंगे की आप किस तरह उत्तराखंड राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है। कैसे उत्तराखंड राशन कार्ड लिस्ट 2020 में अपना नाम देख सकते हैं।

अगर आपके पास इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध है तो आप घर बैठे बैठे ही राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है। इससे अब आपको दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। आपके समय की बचत होगी। चलिए जानते है कि आप किस प्रकार उत्तराखंड राशन कार्ड एप्लीकेशन फॉर्म को भर कर नए राशन कार्ड के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

Contents

उत्तराखंड राशन कार्ड श्रेणियां

राशन कार्ड को 5 वर्गों में वर्गीकृत किया गया है। इन सभी श्रेणियों के आधार पर ही राशन कार्ड बनाए जाते हैं जो व्यक्ति जितना गरीब होगा उसका उस तरह का राशन कार्ड मिलेगा।

APL Ration Card : गरीबी रेखा से ऊपर/एपीएल/APL

  • उत्तराखंड का कोई भी व्यक्ति जो गरीबी रेखा से ऊपर आने वाले परिवारों से संबंध रखता है, इस राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है।
  • परिवार की कुल वार्षिक आय 15000 रूपये से अधिक होनी चाहिए।
  • इन्हे इस राशन कार्ड के जरिए महीने का 6 किलो राशन कम दामों में दिया जाता है।
  • यह राशन कार्ड पीला रंग का होता है।

राज्य खाद्य योजना कार्ड / State Food Yojana Card –

  • जिन परिवारों की वार्षिक आय 15,000 रुपये से कम है, उनके लिए इसे जारी किया जाता है।
  • यह राशन कार्ड सफ़ेद रंग का होता है।

BPL Ration Card : गरीबी रेखा के नीचे/ BPL

  • उत्तराखंड का कोई भी व्यक्ति जो गरीबी रेखा से नीचे आने वाले परिवारों से संबंध रखता है, इस राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है।
  • परिवारों की वार्षिक आय 10000 रूपये से नीचे होनी चाहिए।
  • इन्हे महीने का 15 किलो राशन दिया जाता है।
  • यह राशन कार्ड सफ़ेद रंग का होता है।

Antyodaya Anna Yojana : अत्यधिक गरीबी/ अंतोदय (AAY)

  • उत्तराखंड का कोई भी व्यक्ति जो बहुत ज़्यादा गरीब परिवारों से है और जिनकी आर्थिक स्थिति अधिक कमज़ोर है।
  • जिसकी कोई आय भी निश्चित नहीं है या आय ही नहीं है, वो इस राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है।
  • इन्हे महीने का 25-35 किलो राशन दिया जाता है।
  • यह राशन कार्ड गुलाबी रंग का होता है।

अन्नपूर्णा योजना / Annapurna Yojana –

  • यह राशन कार्ड 60 या 65 वर्ष के वरिष्ठ नागरिक और जिनके पास कोई पेंशन सुविधा नहीं है ऐसे लोगों को प्रदान किया जाता है।
  • यह राशन कार्ड हरा रंग का होता है।

राशन कार्ड बनवाने के लिए जरूरी कागजात

  • आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • परिवार के मुखिया के साथ फोटो
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • यदि आपके पास पुराने राशन कार्ड की कॉपी है तो साथ में अटैच कर सकते हैं।
  • LPG कनेकशन का नंबर
  • लाभार्थी उत्तराखंड का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • एक नगर या ग्राम पंचायत से दूसरे निवास स्थान के राशन कार्ड में स्थानांतरित करने के मामले में सरेंडर सर्टिफिकेट

उत्तराखंड राशन कार्ड पात्रता –

  • आवेदक के पास राशन कार्ड नहीं होना चाहिए।
  • व्यक्ति को 18 वर्ष और उससे ऊपर होना चाहिए।
  • हाल ही में उत्तराखंड में शादी करने वाले जोड़े आवेदन कर सकते हैं।
  • अस्थायी राशन कार्ड या पिछले कार्ड की समाप्ति के धारक नए राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • व्यक्ति को भारत का नागरिक होना चाहिए और उत्तराखंड का एक निवासी होना चाहिए।
  • व्यक्ति को परिवार का प्रमुख होना चाहिए।

उत्तराखंड राशन कार्ड की वैधता

  • राशन कार्ड 5 साल के लिए वैध है।
  • वैधता अवधि खत्म होने के बाद फिर से आवेदन किया जा सकता है।

उत्तराखंड राशन कार्ड हेतु शुल्क

  • राशन कार्ड प्राप्त करने के लिए, आवेदन शुल्क के रूप में 5 रुपये की राशि का भुगतान करना होगा।
  • नया स्मार्ट राशन कार्ड प्राप्त करने के लिए कार्डधारक को 17 रुपये का शुल्क देना होगा।
  • अगर राशन कार्ड खो जाता है या खराब हो जाता है, तो डुप्लिकेट कार्ड पर 25 रुपये का शुल्क लगेगा।

उत्तराखंड राशन कार्ड के लाभ

  • पहचान पत्र के रूप में भी कार्य करता है।
  • वोटर आईडी बनवाने के लिए भी राशन कार्ड की कॉपी की ज़रूरत होती है।
  • ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए राशन कार्ड की जरुरत होती है।
  • बिजली कनेक्शन लेने के लिए राशन कार्ड का उपयोग कर सकते है।
  • राशन कार्ड के ज़रिये उत्तराखंड के लोग सस्ती दरों पर खाद्य प्रदार्थ जैसे गेहू चावल ,केरोसिन ,चीनी आदि प्राप्त कर सकते है।
  • सिम कार्ड लेने के लिए राशन कार्ड की जरुरत होती है।
  • टेलीफोन कनेक्शन लेने के लिए राशन कार्ड की जरुरत होती है।

उत्तराखंड राशन कार्ड न्यू लिस्ट 2020 में नाम कैसे चेक करे?

  • खाद्य विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं – आधिकारिक वेबसाइट
  • Ration Card Details का विकल्प दिखाई देगा, उस विकल्प पर क्लिक कर दे।
  • अब राशन कार्ड डिटेल्स ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको कैप्चा कोड भरना होगा और फिर Verify के बटन पर क्लिक करना होगा ।
  • कैप्चा कोड सब्मिट करने के बाद आप अगले पेज पर पहुंच जायेंगे यहाँ आपको राज्य,जिला,तारीख आदि सेलेक्ट करनी है।
  • मांगी गयी सारी जानकारी भरने के बाद view Report पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमे आपको DISTRICT SUPPLY OFFICE  के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • DISTRICT SUPPLY OFFICE (as in above image) के विक्लप पर क्लिक करने के बाद अपनी तहसील (ARO) पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने आपके ARO में जितने भी दुकानदार हैं सबकी लिस्ट आ जायेगी यहाँ अपने दुकानदार का नाम ढूंढे और उसके नाम के आगे दिए गए नंबर पर क्लिक करें ।
  • अब जैसे ही आप दुकानदार का नाम चुन लेंगे और उसके आगे के नम्बर पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने लिस्ट आ जाएगी, अब आप इसमें अपना नाम देख सकते हैं

आप इस तरह से आप उत्तराखंड राशन कार्ड लिस्ट 2020 में अपना नाम आसानी से देख सकते हैं यहाँ पर हमने आपको कर्मानुसार प्रोसेस को समझाया है।

राशन कार्ड हेतु आवेदन कैसे करे?

शहरी क्षेत्र में आवेदन –

  • सबसे पहले आवेदन पत्र जमा करें।
  • आवेदन पत्र में निम्नलिखित विवरण दें:
    • नाम और पता
    • परिवार का विवरण
    • गैस कनेक्शन का विवरण
    • आय का विवरण
    • बैंक खाता संबंधी जानकारी
 
  • आवेदन पत्र में सभी विवरण प्रदान करने के बाद, जिला आपूर्ति कार्यालय (डीएसओ) में क्लर्क के पास सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदन जमा करें।
  • सभी दस्तावेजों की पुष्टि करने के बाद, क्लर्क एक पावती रसीद जारी करेगा।
  • रसीद को भविष्य के संदर्भ के लिए सुरक्षित रखें।
  • क्लर्क आवेदन को संबंधित क्षेत्र के आपूर्ति निरीक्षक (एसआई) को भेजेगा।
  • सभी दस्तावेजों को सत्यापित करने के बाद, एसआई अन्य सभी विवरणों की जांच करने के लिए घर का दौरा करेगा।
  • यदि सत्यापन संतोषजनक है, तो एसआई क्लर्क को आवेदन वापस करने के लिए राशन कार्ड के मुद्दे को मंजूरी देगा।
  • क्लर्क एक नया राशन कार्ड बना देगा जिसमें परिवार के सभी सदस्यों की संख्या, नाम, परिवार के मुखिया की तस्वीर होगी।
  • क्लर्क, मास्टर रजिस्टर में राशन कार्ड की प्रविष्टियाँ दर्ज करता है।
  • राशन कार्ड को घर के नजदीक उचित मूल्य की दुकान (एफपीएस) के साथ संलग्न किया जाएगा।
  • आपको क्लर्क को पावती रसीद देनी होगी जिसके बाद आपको नया राशन कार्ड प्रदान किया जायेगा।

ग्रामीण क्षेत्र में आवेदन –

  • क्षेत्र में खंड विकास कार्यालय यानी बीडीओ बड़ो के यहाँ जाएँ।
  • बीडीओ कार्यालय में ग्राम पंचायत अधिकारी यानी GPO के पास अन्य सभी दस्तावेजों के साथ एक आवेदन जमा करें।
 
  • जीपीओ दस्तावेजों को सत्यापित करेगा और आवेदक को एक पावती रसीद देगा।
  • GPO एसआई को भी आवेदन अग्रेषित करेगा।
  • एसआई सत्यापन के लिए घर का दौरा करेगा।
  • यदि सत्यापन संतोषजनक है, तो वह राशन कार्ड के मुद्दे को मंजूरी देगा।
  • GPO एक नया राशन कार्ड बनाता है, परिवार इकाइयों की गणना करता है, परिवार के मुखिया की तस्वीर चिपकाता है और मास्टर रजिस्टर में राशन कार्ड प्रविष्टियाँ दर्ज करता है।
  • आवेदक का राशन कार्ड घर के पास उचित मूल्य की दुकान यानी एफपीएस/ FPS के साथ संलग्न किया जाएगा।
  • GPO को पावती रसीद का प्रदान करने पर, आवेदक राशन कार्ड एकत्र कर सकता है।

Helpline Number –

टेलीफोन: 0135-2712055
फैक्स: 0135-2712014
आधिकारिक वेबसाइट: fcs.uk.gov.in
पता: खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग, उत्तराखंड की कक्ष संख्या 4, मुख्य सचिव भवन, उत्तराखंड गुप्तचर, सुभाष रोड, देहरादून – 248001

उत्तराखंड में राशन कार्ड की ऑनलाइन जानकारी कौन सा विभाग देता है?

DEPARTMENT OF FOOD, CIVIL SUPPLIES & CONSUMER AFFAIRS द्वारा यह जानकारी ऑनलाइन मिलती है।


उत्तराखंड राशन कार्ड लिस्ट में नाम नहीं दिख रहा तो क्या करें?

राशन कार्ड लिस्ट में नाम नहीं दिख रहा तो आप अपनी उचित मूल्य की दूकान पर जाकर जानकारी ले सकते हैं।


क्या उत्तराखंड राशन कार्ड लिस्ट देखने के लिए कॉमन सर्विस सेंटर जाना होगा?

अगर आपके पास इंटरनेट की सुविधा है और स्मार्टफोन या कंप्यूटर है तो आप कही से भी राशन कार्ड सूची देख सकते हैं। इसलिए CSC पर जाने की जरुरत नहीं है।

yojanasarkari