[PDF] Uttarakhand Birth Certificate Application Form 2022

Uttarakhand Birth Certificate | उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र आवेदन | Uttarakhand Janam Praman Patra | उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र पंजीकरण ऑनलाइन

Uttarakhand Birth Certificate – उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र एक आवश्यक दस्तावेज है। जिसमे हमारे जन्म से सम्बंधित की जानकारी होती है। जन्म प्रमाण पत्र में नाम, पता, माता – पिता का नाम, जन्म तिथि, जन्म स्थान आदि की जानकारी दर्ज होती है। जन्म प्रमाण पत्र का उपयोग विभिन्न प्रकार के सरकारी कामों में किया जाता है। विभिन्न सरकारी योजनाओ का लाभ के लिए भी यह एक महत्वापूर्ण दस्तावेज है। आपने इस लेख के माध्यम से आज हम आपको उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र से सम्बंधित जानकारी प्रदान करेंगे। उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र से जुडी सभी प्रकार की जानकारी के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहे।

Uttarakhand Birth Certificate

जन्म प्रमाण पत्र/ Birth Certificate एक बहुत ही जरुरी दस्तावेज है। चाहे हम किसी भी राज्य के निवासी हो परन्तु जन्म प्रमाण पत्र बहुत ही महत्वपूर्ण है। बच्चे के जन्म के बाद ही इसे बनवा लेना चाहिए। परन्तु किसी कारणवश हम यह सब समय पर नहीं बनवा पातें। जरूरत के समय ही हमे इसकी याद आती है। आज का समय डिजिटल इंडिया का समय है। तो हम घर बैठे ही बड़े ही आसान तरीके से ऑनलाइन आवेदन कर जन्म प्रमाण पत्र बनवा सकते है।

जन्म प्रमाण पत्र एक प्रकार का सरकारी दस्तावेज है। जन्म प्रणाम पत्र में व्यक्ति के जन्म से संबन्धित विवरण को रिकॉर्ड होता है। उत्तराखंड में, पंजीकरण अधिनियम, 1969 के अनुसार प्रत्येक वयक्ति को जन्म को पंजीकृत करना अनिवार्य है। राज्य में मुख्य रजिस्ट्रार और जिला रजिस्ट्रार द्वारा जन्म प्रमाण पत्र जारी किया जाता है।

Uttarakhand Birth Certificate
आर्टिकल उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र
विभाग राजस्व विभाग
भाषा  हिंदी
आधिकारिक वेबसाइट Click Here

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र पंजीकरण

उत्तराखंड राज्य का प्रत्येक निवासी या राज्य में जन्म लेने वाला कोई नागरिक अपना जन्म पंजीकृत कर सकता है।
व्यक्ति किसी अस्पताल, नर्सिंग होम या चिकित्सा संस्थान में होता है, तो ऐसे जन्म की सूचना संस्थानों द्वारा दी जानी अनिवार्य है।
यदि व्यक्ति का जन्म घर पर हुआ है, तो आप आपने नजदीकी ब्लॉक कार्यालय में पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकता है।

वैसे तो इसे  ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से ही रजिस्टर किया जा सकता है। ऑफलाइन पंजीकरण के लिए पास के नगर निगम, तहसील या जिला मुख्यालय में इसे दर्ज करवाना पड़ता है। और ऑनलाइन के लिए आप घर बैठे ही इसे रजिस्टर कर सकते है। जन्म प्रमाण पत्र बनवाना हमारे लिए बहुत ही आवश्यक होता है। इसे बच्चे के जन्म के 21 दिनों के अंदर ही रजिस्टर करवा लेना चाहिए। इस के जरिये हमें बहुत सारी सरकारी सुविधाएँ-सेवाएं मिलती रहती है

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र के लाभ

जन्म प्रमाण पत्र का उपयोग विभिन्न प्रकार के कार्यों के लिए किया जाता है।

  • विवाह प्रमाण पत्र के लिए पंजीकरण हेतु।
  • पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, बनवाने हेतु।
  • शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए।
  • बीमा लाभ का दावा करने के लिए।
  • विभिन्न प्रकार के सरकारी योजनाओं के लाभ हेतु।

रजिस्ट्रेशन ऑफ बर्थ एक्ट, 1969 के अनुसार, जन्मके 21 दिनों के भीतर जन्म पंजीकरण के लिए आवेदन किया जा सकता है। अगर पंजीकरण जन्म की घटना से 21 दिनों के भीतर नहीं किया गया, तो पंजीकरण में देरी का कारण बताते हुए एक हलफनामा दायर किया जाना अनिवार्य है।

Click Here :- उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना आवेदन

आवश्यक दस्तावेज़

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र के लिए निम्नलिखित आवश्यक दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ संलग्र करना होगा।

  • अस्पताल से जन्म का प्रमाण
  • माता-पिता का आईडी प्रूफ
  • माता-पिता का पता प्रमाण
  • माता-पिता का विवाह प्रमाण

नीचे दिए गए लिंक से आप आसानी से उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर सकतें है।

Click Here :- Download The Uttarakhand Birth Certificate Application Form 

Uttarakhand Birth Certificate आवेदन प्रक्रिया

आइए आज हम आपको बताते है की उत्तराखंड राज्य के लोग कैसे जन्म प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते है? कृपया इस लेख को सम्पूर्ण जानकारी के लिए अंत तक पढ़ना होगा।

जन्म पंजीकरण करने के लिए आपको उत्तराखंड राज्य की जन्म सम्बंधित आधिकारिक वेबसाइ पर जाना होगा।

  • ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल के होम पेज पर “रजिस्टर” विकल्प पर क्लिक करें।

  • इसके बाद आपको आवश्यक विवरण भर कर “खाता सक्रिय करें” बटन पर क्लिक करना होगा। एक बार खाता सक्रिय हो जाने के बाद, आप अपने यूजर आईडी और यूजर पासवर्ड का उपयोग करके ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर लॉगिन कर सकते है।

  • अब आपको डाउनलोड पर क्लिक करना होगा। ड्रॉपडाउन सूची से एप्लिकेशन फॉर्म विकल्प का चयन करना होगा।

  • अब आपको पीडीएफ प्रारूप में जन्म पंजीकरण ई-फॉर्म डाउनलोड करने के लिए, “जन्म प्रमाण पत्र” लिंक पर क्लिक करें।

 

  • अब आप जन्म पंजीकरण का फॉर्म भर सकते हैं तथा साथ में आवशयक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।

  • अब आप जन्म पंजीकरण का फॉर्म भर सकते हैं तथा साथ में आवशयक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • आवेदन पत्र भरने के बाद, पंजीकरण के लिए निर्धारित शुल्क के साथ संबंधित प्राधिकारी को जमा करें।

Note– हमारे द्वारा प्रदान की गयी, उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना की जानकरी आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। उत्तराखंड सरकार से संबंधित किसी प्रकार की योजना की जानकरी के लिए हमारी वेबसाइट yojanasarkari.in के साथ जुड़े रहे. धन्यवाद

Important FAQ

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र क्या है?

जन्म प्रमाण पत्र एक प्रकार का सरकारी दस्तावेज है, जिसमे व्यक्ति की जन्म से संबन्धित जानकारी होती है।

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र के आवेदन के लिए आवशयक दस्तावेज क्या है?

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र के आवेदन के लिए अस्पताल से जन्म का प्रमाण, माता-पिता का आईडी प्रूफ, माता-पिता का पता प्रमाण, माता-पिता का विवाह प्रमाण की आवशयक होती है।

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र किस काम आता है?

उत्तराखंड जन्म प्रमाण पत्र विभिन्न प्रकार के सरकारी योजनाओं के लाभ हेतु आवशयक दस्तवेज है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!