Mukhyamantri Khet Suraksha Yojana UP 2024: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, लाभ

Mukhyamantri Khet Suraksha Yojana UP:-

5 फरवरी 2024 को उत्तर प्रदेश विधान मंडल में वित्तीय वर्ष 2024–25 का बजट पेश किया गया। भाजपा के एजेंट के अनुसार, सरकार ने बजट के माध्यम से किसानों के लिए एक नई योजना की घोषणा की है। मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना 2024 नाम है। सरकार ने इस योजना को लागू करने के लिए 50 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के किसान अपने पशुधन और फसलों को सुरक्षित रख सकेंगे। किसानों को उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना में आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए इलेक्ट्रिक सोर्स बाड़ लगाने के लिए प्रति हेक्टेयर 1.43 लाख रुपए का अनुदान मिलेगा।

सोलर फेंसिंग के माध्यम से राज्य में आवारा पशुओं से खेतों को बचाया जा सकेगा। यदि आप भी उत्तर प्रदेश के किसान हैं और आवारा पशुओं से खेतों को बचाना चाहते हैं, तो आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस लेख में हम मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना 2024 से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। यदि आप अधिक जानना चाहते हैं, तो इस लेख को अंत तक पढ़ें|

Mukhyamantri Khet Suraksha Yojana UP

Mukhyamantri Khet Suraksha Yojana UP 2024

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुरू किया है। कृषि विभाग इसे संचालित करेगा। सरकार इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को आवारा पशुओं से बचाने के लिए सोलर फेंसिंग लगाने का अनुदान देगी। फसलों को जानवरों से बचाने के लिए 12 वोल्ट की सोलर फेंसिंग बाड़ लगाई जाएगी। जानवरों को इससे कोई नुकसान नहीं होगा। सायरन की आवाज भी सुनाई देगी। जिससे खेतों में खड़ी फसलों को कोई जानवर नहीं नुकसान पहुंचा सकेगा। छोटे और सीमांत किसानों को मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना के तहत प्रति हेक्टेयर 1.43 लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा। यह योजना उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए वरदान साबित होगी।

लेख का विषय  Mukhyamantri Khet Suraksha Yojana
संबंधित विभाग  कृषि विभाग उत्तर प्रदेश
शुरू की गई  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
लाभार्थी  राज्य के किसान
अनुदान राशि 60% या 1.43 लाख रुपए
उद्देश्य  आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट  जल्द लॉन्च होगी
राज्य की आधिकारिक वेबसाइट up.gov.in

UP CM Khet Suraksha Yojana का उद्देश्य

हम सभी जानते हैं, खुला हुआ पशु उत्तर प्रदेश में एक बड़ी समस्या है जो हर दिन किसानों की फसलों को बर्बाद करता है। कटीले तार अपने खेतों में लगाकर पशुओं से फसलों को बचाते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगाया है क्योंकि इससे पशुओं को चोट लगती है। इसलिए सरकार ने आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए मुख्यमंत्री सुरक्षा योजना शुरू की है। किसानों को आवारा पशुओं से बचाने के लिए सोलर फेंसिंग बाड़ लगाने की अनुमति दी जाएगी। किसानों को इस योजना से राहत मिलेगी, जिससे वे सिर्फ पशुओं को हल्का झटका देकर फसलों को नुकसान से बच सकेंगे।

लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों और फसलों को नुकसान से बचाने के लिए मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना शुरू की है।
  • आवारा पशुओं से बचाने के लिए खेतों के चारों ओर सोलर फेंसिंग लगाने के लिए इस योजना से राज्य के छोटे लघु और सीमांत किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी|
  • जानवरों से फसलों को बचाने के लिए 12 वोल्ट की सोलर इलेक्ट्रिक बाड़ लगाई जाएगी।
  • जानवरों को इससे कोई नुकसान नहीं होगा। और सायरन बजने से खेतों से बंदर, जंगली जानवर और नीलगाय दूर भाग जाएंगे।
  • UP Khet Suraksha Yojana के तहत किसान भाइयों को प्रति हेक्टेयर 60% या 1.43 लाख रुपए का अनुदान मिलेगा।
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना के कार्यान्वयन के लिए वित्त वर्ष 2024-25 के लिए 50 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित किया है।
  • उत्तर प्रदेश सरकार इस योजना को पूरे राज्य में लागू करेगी, ताकि अधिक से अधिक किसानों को आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए वित्तीय सहायता मिल सके|
  • किसानों की फसलों को इस योजना से बचाया जाएगा, जिससे उनकी आय बढ़ेगी।
  • मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना से फसल उत्पादन में वृद्धि होगी, जो किसानों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाएगी।

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना के लिए प्रस्तावित 50 करोड़ रुपए की बजट राशि

योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2024–25 का आठवां बजट प्रस्तुत किया है। मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना के लिए 50 करोड़ रुपए का बजट इस बजट में किसानों को मिलेगा। इस योजना के माध्यम से किसानों को आवारा पशुओं से बचने के लिए आर्थिक सहायता मिलेगी। उत्तर प्रदेश सरकार इस योजना से राज्य के छोटे लघु और सीमांत किसानों को लाभ मिलेगा। जिससे किसानों को आवारा पशुओं से फसलों का नुकसान होने की समस्या से छुटकारा मिलेगा और उनकी आय भी बढ़ेगी। सरकार इस योजना को पूरे राज्य में लागू करेगा ताकि अधिक से अधिक किसान आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए अनुदान राशि का लाभ ले सकें।

पात्रता मानदंड

  • आवेदक को उत्तर प्रदेश राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक उत्तर प्रदेश का किसान होना चाहिए|
  • इस योजना के लिए पात्र राज्य के लघु एवं सीमांत किसान ही होंगे।
  • आवेदक कृषक के पास खुद की भूमि होनी चाहिए|
  • किसान भाई का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • किसान कार्ड
  • भूमि से संबंधित दस्तावेज
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना उत्तर प्रदेश 2024 के तहत आवेदन कैसे करें?

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना के लिए आवेदन करने के लिए अभी थोड़ा समय लगेगा। उत्तर प्रदेश सरकार ने अभी तक mukhyamantri khet suraksha yojana apply online से संबंधित कोई सूचना नहीं दी है। सरकार द्वारा Mukhymantri Khet Suraksha Yojana की आधिकारिक वेबसाइट शुरू होने पर हम इस लेख के माध्यम से आपको सूचित कर देंगे। ताकि आप इस योजना से लाभ प्राप्त कर सकें।

अन्य महत्वपूर्ण लेख

FAQs=> अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न उत्तर

Up Khet Suraksha Yojana को किस राज्य में शुरू किया गया है?

उत्तर प्रदेश राज्य में|

Khet Suraksha Yojana 2024 Up के माध्यम से किसे लाभ मिलेगा?

राज्य के छोटे, लघु और सीमांत किसानों को प्रति हेक्टेयर लागत का 60 प्रतिशत या 1.43 लाख रुपए का अनुदान|

Up Mukhymantri Khet Suraksha Yojana 2024 के लिए कितने रुपए का बजट प्रस्तावित किया गया है?

उत्तर प्रदेश सरकार ने 50 करोड़ का बजट प्रस्तावित किया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top