Mukhyamantri Ek Bigha Yojana 2021 | हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री एक बीघा योजना आवेदन कैसे करें ?

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana | मुख्यमंत्री एक बीघा योजना आवेदन | Chief Minister 1 Bigha Yojana |  मुख्यमंत्री एक बीघा योजना एप्लीकेशन फॉर्म | हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री एक बीघा योजना आवेदन |  | Himachal Pradesh CM 1 Bigha Yojana In Hindi 

Chief Minister 1 Bigha Yojana –हिमांचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शिमला से वीडियो काफ्रेंसिग के माध्यम से राज्य के लोगों के लिए मुख्यमंत्री एक बीघा योजना की शुरुआत की है। जिसके माध्यम से राज्य में मनरेगा योजना के तहत ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने, 1.5 लाख ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने और रोजगार उपलव्ध कराया जायेगा। इस योजना के माध्यम से राज्य में जिस भी महिला या उनके परिवार के पास एक बीघा (0.4 हेक्टेयर) तक की भूमि उपलब्ध है।

वह इस योजना के तहत सब्जियों और फलों को उगाने के लिए बैकयार्ड किचन गार्डन तैयार कर सकते हैं। इस लेख के माध्यम से आज हम आपको मुख्यमंत्री एक बीघा योजना की जानकारी प्रदान कर रहे है। योजना से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारी के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहे।

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana 2021

इस योजना के तहत राज्य में 1 .5 लाख ग्रामीण महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने के लिए रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत 5,000 स्व-सहायता समूह 80% ग्रामीण परिवारों द्वारा शुरू किये जायेंगे। जिन के पास एक बीघा के लगभग जमीन उपलब्ध है।

इस योजना को सरकार द्वारा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना से जोड़कर ग्रामीण क्षेत्रों की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जायेगा। ताकि राज्य की महिलाएं स्वयं का रोजगार कर सकें व आत्मनिर्भर बन सकें। महिलाओं द्वारा उस एक बीघा भूमि पर फल व सब्जी का बैकयार्ड किचन गार्डन तैयार कर आय का सर्जन किया जायेगा।

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana Highlights 
आर्टिकल मुख्यमंत्री एक बीघा योजना
उद्देश्य रोजगार के अवसर प्रदान करना
इनके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर 
लाभार्थी  हिमाचल प्रदेश की ग्रामीण महिलाये

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के उद्देश्य 

  • मनरेगा और स्वच्छ भारत मिशन का अभिसरण कर ग्रामीणों को किचन गार्डनिंग के लिए प्रोत्साहित करना है।
  • राज्य की ग्रामीण आर्थिकी में बदलाव होगा।
  • जमीनी स्तर पर महिलाओं का आर्थिक सशक्तीकरण होगा।

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के मुख्य तथ्य

  • इस योजना में 5000 स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से लगभग 1.50 लाख महिलाएं शामिल होंगी।
  • यह योजना केंद्र सरकार की महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना (MGNREGA) से जुड़ी हुई है।
  • इस योजना के तहत राज्य की ग्रामीण महिलाओ को राज्य सरकार द्वारा रोजगार के अवसर प्रदान होगें।
  • सभी स्वयं सहायता समूह जो जॉब कार्ड धारक हैं, वह इस योजना के तहत 01 लाख रुपये का लाभ उठा सकते हैं।
  • जो पात्र महिलाएं हैं उन्हें 40,000 रुपये का अनुदान मिलेगा और कंकरीट वर्मी कम्पोस्ट पिट बनाने के लिए 10,000 रुपये तक अनुदान राज्य सरकार दवारा दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के लाभ 

  • योजना का लाभ हिमाचल प्रदेश की ग्रामीण महिलाओ को प्रदान किया जायेगा।
  • ग्रामीण महिलाओ को इस योजना के ज़रिये रोजगार के अवसर मिलेंगे।
  • यह योजना महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MGNHGS) से जुड़ी हुई है।
  • करीब 1 .5 लाख ग्रामीण महिलाओ को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • प्रत्येक महिला लाभार्थी को MGNREGA योजना के तहत 1 लाख रुपये का वार्षिक नकद प्रोत्साहन दिया जाएगा।
  • इसमें 198 रुपये प्रति दिन की मजदूरी शामिल होगी।
  • प्रत्येक 15 दिनों के बाद, महिलाओं को मिलने वाला वेतन उनके बैंक खातों में स्थानांतरित किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री एक बीघा योजना न केवल परिवार के लिए पोषण सुरक्षा सुनिश्चित करती है बल्कि अतिरिक्त आय भी पैदा करेगी।
  • लाभार्थी आर्थिक रुप से मजबूत बनेगें।
  • ग्रामीण महिलाओं को योजना के तहत प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
  • इसके अलावा, स्तरीय पहाड़ी भूमि, पानी को चैनलाइज करने, एक वर्मी-कम्पोस्ट पिट स्थापित करने और पौधे और बीज खरीदने के लिए अनुदान प्रदान किया जाएगा।

Eligibility Criteria for Mukhyamantri Ek Bigha Yojana

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana के आवेदन के लिए आपको निम्नलिखित पात्रता मानदंड को पूरा करना होगा।

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • ग्रामीण महिलाएं ही आवेदन की पात्र है
  • महिला के पास खेती करने के लिए भूमि होनी चाहिए।
  • महिला के पास मानरेगा जॉब कार्ड होना चाहिए।

Mukhyamantri Yuva Swavalamban Yojana

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

Mukhyamantri Ek Bigha Yojana के आवेदन के लिए आपको निम्नलिखित आवश्यक दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ संलग्र करना होगा।

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • जमीनी दस्तावेज
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना Approved work

  • भूमि सुधार
  • नर्सरी उत्पादन
  • पौधा रोपण
  • केंचुआ खाद गड्डा निर्माण
  • अजोला पिट निर्माण
  • जल संरक्षण संरचना निर्माण

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के लिए आवेदन

हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र की महिलाऐं जो इस योजना के लिए आवेदन करना चाहती है उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। ये योजना अभी शुरू की गई है, पर इसके अधिकारिक पॉर्टल को अभी लॉंच नहीं किया गया है। और न ही इस योजना के अंतर्गत आधिकारिक पोर्टल और ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू करने के लिए कोई निर्देश जारी किया गया है। जैसे ही मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा, हम इस आर्टिकल के माध्यम से आप तक जानकारी को पहुंचा देंगे।

Note- हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है।अगर आपको ये जानकारी सही लगे तो दूसरो के साथ भी साँझा कीजिये। कोई त्रुटि हो तो हमे जरूर बताए।

योजना से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQ)

एक बीघा योजना क्या है ?

ग्रामीण महिलाओं को मनरेगा के तहत आत्मनिर्भर बनाने और रोजगार उपलव्ध करवाने के लिए की गई है।

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के लिए क्या आवश्यक दस्तावेज चाहिए ?

आधार कार्ड, स्थायी प्रमाण पत्र, जमीनी दस्तावेज, बैंक खाता,पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री एक बीघा योजना के लिए आवेदन कैसे करें ?

अभी इसके लिए थोड़ा इंतज़ार करना पड़ेगा ,सरकार इसके लिए दिशा निर्देश जारी करेगी।

Leave a Comment

50 − = 43

error: Content is protected !!