[PDF] यूपी निवास प्रमाण पत्र 2021: UP Domicile Certificate एप्लीकेशन फार्म, डाउनलोड

यूपी निवास प्रमाण पत्र | UP Domicile Certificate Application Form Download | UP Residence Certificate | यूपी निवास प्रमाणपत्र ऑनलाइन आवेदन | डोमिसाइल सर्टिफिकेट  | UP Niwas Praman Patra

यूपी निवास प्रमाण पत्रनिवास प्रमाण पत्र एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है जो की नागरिको को राज्य सरकार द्वारा प्राप्त होता है। आपको सर्टिफिकेट बनवाना बहुत ही जरुरी है क्यूंकि इससे आपके उस जगह में स्थायी निवास होने का पता लगता है। किसी भी सरकारी नौकरी के लिए निवास प्रमाण पत्र माँगा जाता है मूल निवास प्रमाण पत्र केवल उन लोगों के लिए उपलब्ध है जिनके पूर्वज उस राज्य के मूल निवासी हैं। उन लोगों को नहीं जो रोजगार की तलाश में यहां आए हैं और हाल ही में यहां आए हैं

पहले यूपी निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आपको कार्यालय के चक्कर काटने पढ़ते थे और कई दिनों तक आपका काम नहीं हो पाता था लेकिन अब जैसा की आप जानते है कि सभी काम डिजिटल माध्यम से पूरे किये जा रहे है और लोगो का काम आसान से आसान तरीके से पूरा करने की कोशिश की जा रही है अब आप आसानी से घर बैठे ही अपने निवास प्रमाण पत्र बनवाने हेतु ऑनलाइन माध्यम द्वारा इसका आवेदन कर सकते है।

आवेदन करने के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। हम अपने इस लेख में इस प्रमाण पत्र से सम्बंधित सभी जानकारी साझा करेंगे | जैसे: निवास प्रमाण पत्र कैसे बनवाये, इसकी पात्रता क्या होगी, DOMICILE सर्टिफिक्टे बनवाने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज क्या होंगे, आवेदन प्रक्रिया क्या है | अगर आप इससे संबंधित सभी जानकारी एकत्र करना चाहते है तो हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।

Table of Contents

यूपी निवास प्रमाण पत्र

देश की सरकार द्वारा जारी सभी योजनाओं और सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए, निवास प्रमाण पत्र होना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि इसका उपयोग कई कार्यों में किया जाता है चाहे वह सरकारी काम हो या गैर सरकारी काम अगर आपको अपने बच्चे का पालन करना है स्कूल में अगर आप एडमिशन लेना चाहते हैं, या कॉलेज में दाखिला लेना चाहते हैं, तो यह सर्टिफिकेट माँगा जाता है या आपको किसी तरह की यूपी छात्रवृत्ति की आवश्यकता होगी, इसका उपयोग नौकरी के मामले में भी किया जाता है।

यूपी निवास प्रमाण पत्र का विवरण 

के बारे में लेख UP Domicile Certificate
लाभार्थी राज्य के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें
मूल निवास प्रमाण पत्र फॉर्म PDF डाउनलोड लिंक फॉर्म हिंदी में डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

यूपी निवास प्रमाण पत्र का लाभ किसे मिलेगा ?

उत्तर प्रदेश डोमिसाइल सर्टिफिकेट का लाभ राज्य के मूल व्यक्ति को दिया जाता है। इस प्रमाण पत्र के लिए सरकारी नौकरी, पासपोर्ट, योजनाएं, सरकारी सेवाएं, छात्रवृत्ति, वोटर कार्ड, लाइसेंस जैसी अन्य प्रकार की सेवाओं का लाभ उठाना आवश्यक है।

यूपी निवास प्रमाण पत्र के लाभ

यूपी अधिवास प्रमाण पत्र के लाभ निम्नलिखित हैं:

  • राशन कार्ड या किसी अन्य पेंशन का लाभ उठाने के लिए एक मूल निवास प्रमाणपत्र की आवश्यकता होती है।
  • यह कॉलेज में प्रवेश के लिए महत्वपूर्ण है।
  • सरकारी नौकरी का लाभ पाने के लिए
  • यूपी सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का लाभ प्राप्त करना महत्वपूर्ण है।
  • कई तरह के डॉक्युमेन्ट्स जैसे: बर्थ सर्टिफिकेट, डेथ सर्टिफिकेट, इनकम सर्टिफिकेट बनाने के लिए कार्यालयों में इसे माँगा जाता है।

यूपी निवास प्रमाण पत्र बनवाने की पात्रता

  • आवेदक कम से कम 3 वर्ष के लिए उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • नाबालिगों के लिए, उनके माता-पिता के प्रमाण पत्र के आधार पर निवास प्रमाण पत्र जारी किया जायेगा।
  • यदि महिला उत्तर प्रदेश के किसी व्यक्ति से विवाह करतीं हैं तो वह इस प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकती है।
  • महिला आवेदक जो राज्य के निवासी नहीं हैं, उसकी शादी ऐसे व्यक्ति से होनी चाहिए जो उत्तर प्रदेश का मूल निवासी हो या जिसके पास उत्तर प्रदेश का बोनाफाइड प्रमाणपत्र हो |

यूपी निवास प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज

डोमिसाइल सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए।

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • वोटर आई कार्ड
  • स्वयं घोषणा पत्र
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • पैन कार्ड

स्व-घोषणा पत्र डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

यूपी निवास प्रमाण पत्र की वैधता

मूल निवास प्रमाण पत्र की वैधता आजीवन है, लेकिन यदि व्यक्ति अपना निवास स्थान बदलता है, तो मूल निवास प्रमाण पत्र की वैधता समाप्त हो जाती है।

यूपी निवास प्रमाण पत्र फॉर्म पीडीएफ कैसे डाउनलोड करें?

  • जो लोग उत्तर प्रदेश राज्य में अपना मूल अधिवास प्रमाण पत्र (यूपी डोमिसाइल सर्टिफिकेट) प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें सबसे पहले आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड करना होगा।
  • डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने के बाद फॉर्म डाउनलोड करें।
  • डाउनलोड करने के बाद, आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी को ध्यान से भरें और अपने सभी आवश्यक दस्तावेजों की एक प्रति राजस्व विभाग में जमा करें।
  • जमा करने के बाद, आप मूल निवास प्रमाण पत्र से सभी आवश्यक सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।

यूपी निवास प्रमाण पत्र फॉर्म डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

यूपी निवास प्रमाण पत्र ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

निवास प्रमाण पत्र ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार से है:

  • ऑफलाइन माध्यम से एप्लीकेशन फॉर्म भरने के लिए आपको सबसे पहले पब्लिक सर्विस सेंटर /कॉमन सर्विस सेंटर या क्षेत्र की नगर पालिका में जाकर रेजिडेंस प्रमाण पत्र बनवाने के लिए एप्लीकेशन फॉर्म लेना है।
  • जिसके बाद आपको इसमें पूछी गयी जानकारियों जैसे: अपना नाम, माता पिता का नाम, पता, मकान नंबर, जनपद आदि को भरना है।
  • अब आप एप्लीकेशन फॉर्म में मांगे गए डॉक्युमनेट्स को अटैच कर दें।
  • सभी जानकारी भरने के बाद इसे जमा कर दें।
  • जिसके बाद अधिकारी द्वारा आपके सभी डाक्यूमेंट्स का सत्यापन(वेरिफिकेशन) किया जायेगा।
  • इसके बाद आपके रेजिडेंस सर्टिफिकेट को जारी किया जायेगा।
  • निवास प्रमाण पत्र आपका 30 दिन के अंदर बना दिया जायेगा, जिसे आपको कार्यालय में जाकर प्राप्त कर लेना है।

यूपी निवास प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

अगर आप भी स्थायी निवास सर्टिफिकेट बनवाना चाहते है, तो आप दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें:

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • आपके सामने होमपेज खुलेगा |
  • होम पेज पर आपको नवीन पंजीकरण के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • नए पेज पर ऑनलाइन पंजीकरण हेतु प्रपत्र फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको सभी पूछी गयी जानकारी जैसे: आवेदक का नाम, जन्मतिथि, लिंग, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल ID व कैप्चा कोड को भरना है।
  • अब आपको सुरक्षित करें के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • नए पेज पर आप यूजर ID और पासवर्ड जेनरेट करना है जिसके बाद आपके फ़ोन में आपको OTP प्राप्त होगा प्राप्त OTP को आपको दिए गए बॉक्स में भरना है।
  • अब लॉगिन करने के लिए आपको यूजर ID और पासवर्ड भरना है।
  • नए पेज पर आप आवेदन भरें पर क्लिक करें।
  • अब आप निवास पर क्लिक करें जिसके बाद निवास प्रमाण पत्र आपके सामने खुलकर आ जायेगा।
  • आप फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे: नाम, माता-पिता का नाम, लिंग, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर आदि को भरें और मांगे गए दस्तावेजों को अपलोड या स्कैन करके भुगतान शुल्क भरें, आप पेमेंट को नेट बैंकिंग या डेबिट कार्ड के माध्यम से भी भर सकते है।
  • आप इसका प्रिंटआउट भी निकालकर भविष्य हेतू संभाल लें।

UP Domicile Certificate आवेदन की स्थिति कैसे जाने?

अपने निवास प्रमाण पत्र एप्लीकेशन फॉर्म की स्थिति जानने के लिए निचे दिए गए चरण का पालन करें।

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • आपके सामने होमपेज खुलेगा |
  • होम पेज पर आपको आवेदन की स्थिति के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • नए पेज पर आपको अपना एप्लीकेशन नंबर डालना है।
  • अब आप सर्च के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आप एप्लीकेशन फॉर्म का स्टेटस आपकी स्क्रीन पर होगा |

यूपी निवास प्रमाण पत्र डाउनलोड कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • आपके सामने होमपेज खुलेगा |
  • होम पेज पर आप सेवाएं के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • नए पेज पर आप अधिकृत केंद्र पर उपलब्ध सेवाएं के अंदर अधिवास प्रमाण पत्र के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही निवास प्रमाण पत्र फॉर्म आपके सामने खुल जायेगा।
  • अब आप इसे आसानी से डाउनलोड कर सकते है।

निवास प्रमाण पत्र सत्यापन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • आपके सामने होमपेज खुलेगा |
  • होम पेज पर आपको प्रमाण पत्र का सत्यापन के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • नए पेज पर आपको अपना एप्लीकेशन नंबर और सर्टिफिकेट ID को भरना है।
  • अब आप सर्च के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आप आप अपने प्रमाण पत्र का सत्यापन कर पाएंगे।

E-SATHI यूपी मोबाइल ऐप डाउनलोड कैसे करें? 

  • सबसे पहले ऐप डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा।
  • जहाँ उन्हें E-SATHI यूपी मोबाइल ऐप APP को सर्च करना होगा।
  • सर्च करने के बाद इसे आप INSTALL करें।
  • जिसके बाद आपका ऐप SUCCESSFULLY DOWNLOAD हो जायेगा। और सभी सम्बंधित जानकारी आपके मोबाइल पर ऐप
    द्वारा देखने को मिलेंगी।

UP Domicile Certificate हेल्पलाइन नंबर

अगर आपको निवास प्रमाण पत्र से किसी भी प्रकार की समस्या या परेशानियाँ है या शिकायत है या आपको कोई भी सम्बंधित जानकारी प्राप्त करनी है तो आप दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते है।

हेल्पलाइन नंबर- 0522-2304706

निष्कर्ष

अधिवास प्रमाण पत्र (मूल निवास प्रमाण पत्र) उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अपने राज्य के नागरिकों को दिया गया एक आवश्यक आधिकारिक दस्तावेज है। मूल निवास प्रमाण पत्र केवल उन लोगों के लिए उपलब्ध है जिनके पूर्वज उस राज्य के मूल निवासी हैं। उन लोगों को नहीं जो रोजगार की तलाश में यहां आए हैं और हाल ही में यहां आए हैं।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। किसी भी अन्य योजना के अधिक विवरण के लिए YojanaSarkari पर हमारे साथ जुड़े रहें, धन्यवाद।

यूपी निवास प्रमाण पत्र के कुछ महत्वपूर्ण FAQs

निवास प्रमाण पत्र क्या है?

निवास प्रमाण पत्र एक बहुत हे महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसके माध्यम से व्यक्ति के मूल रूप से उस स्थान में रहने का पता लगता है। यह राज्य सरकार द्वारा जारी किया जाता है।

इसका उपयोग कहाँ कहाँ किया जाता है?

डोमिसाइल (DOMICILE) सर्टिफिकेट का उपयोग किसी भी सरकारी या गैर सरकारी के कामो में, स्कूल में एडमिशन के समय, छात्रवृति प्रदान करने के लिए, नौकरी के मामले में भी स्थानीय निवासियों को पहली प्राथमिकता दी जाती है।

आवेदक को निवास प्रमाण पत्र कब उपलब्ध होगा?

आवेदक को निवास प्रमाण पत्र राज्य सरकार द्वारा आपके सभी दस्तावेजों व आवेदन फॉर्म का सत्यापन होने के बाद आप तक पहुँचा दिया जायेगा।

मैं ऑनलाइन माध्यम द्वारा स्व-घोषणा पत्र कैसे डाउनलोड कर सकता हूँ?

1. स्व-घोषणा पत्र डाउनलोड करने के लिए आपको सबसे पहले यूपी की ई-डिस्ट्रिक्ट आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
2. जिसके बाद आप सेवाएं के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करें।
3. नए पेज पर अब आप डाउनलोड के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करें।
4. इसके बाद आप स्वप्रमाणित घोषणा पत्र के पीडीऍफ़ पर क्लिक करें।
5. और इसे डाउनलोड करें और भविष्य हेतु प्रिंटआउट संभल कर रखे

Leave a Comment

88 − = 85

error: Content is protected !!