CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana | राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन

राजीव गांधी किसान न्याय योजना | CG Nyay Yojana | Kisan NYAY Yojana | Kisan NYAY Yojana ऑनलाइन आवेदन | Nyuntam Aay Yojana (NYAY) 2020-2021 | Kisan NYAY Yojana Chattisgarh 

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana – पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर गुरुवार को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री जी ने किसानों के लिए १ योजना की शुरुआत की है जिसका नाम है राजीव गांधी किसान न्याय योजना। इस योजना के तहत 2019 से खरीफ की धान और मक्का जैसी फसलों पर किसानों को अधिकतम 10 हजार रूपए प्रति एकड़ की दर से सहायता राशि दी जाएगी। इस योजना की पेशकश बजट 2020-21 के दौरान की गई है।  इस योजना में किसानों को एक न्यूनतम आय उपलब्ध कराई जाएगी। राजीव गांधी किसान न्यूनतम आय योजना के तहत किसानों को लाभ सीधे उनके बैंक खाते में पहुंचाया जाएगा।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana
Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana
Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Highlight
आर्टिकल राजीव गाँधी किसान न्याय योजना
उद्देश्य किसानो को धान की अंतर की राशि प्रदान करना
लाभार्थी राज्य के किसान

Table of Contents

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana की शुरुआत 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि 21 मई के दिन वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए राज्य में इस योजना का विधिवत शुभारंभ करेंगे। इस योजना के लिए उन्होंने 5100 करोड़ रूपये का ऐलान किया है। योजना के तहत राज्य के 19 लाख किसानों को 5700 करोड़ रुपए की राशि चार किश्तों में सीधे उनके खातों में हस्तांतरित की जाएगी।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana क्या है?

  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत राज्य के सभी किसानो को फायदा प्रदान करने के लिए की जा रही है।
  • अभी इस योजना को विधानसभा से मंजूरी मिलनी बाकि है।
  • विधानसभा से मंजूरी मिलते ही किसानों की शेष राश‍ि देने का काम शुरू हो जाएगा।
  • सरकार ने लगभग 18 लाख किसानों का ऋण माफ किया, जो लगभग रु 8,800 करोड़ लागत वाला था।
  • किसानों द्वारा कम दामों में बेची गई फसल के अंतर का भुगतान सरकार इस योजना के तहत करेगी।
  • इस योजना के लिए 5100 करोड़ रू का प्रावधान रखा गया है।
  • किसानों को इसका सीधा लाभा आसनी से मिल जाए इसके लिए एक विशेष प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा।
  • योजना के भीतर किसी तरह की कोई धांधली न हो इसके लिए फसल के अंतर की रकम सीधा किसान के खातों में ट्रांसफर की जाएगी।
  • छत्तीसगढ़ सरकार का कहना है कि वह 2500 रूपए धान का दाम देने के लिए प्रतिबद्ध होगी।

राहुल गांधी ने न्यूनतम आय योजना ‘NYAY’ के तहत राज्य के लगभग 20 प्रतिशत गरीब लोगों को सालाना 72000 रूपए की राशि प्रदान करने का रायपुर में आयोजित सभा में जनता को एलान किया था। इस हिसाब से 20% गरीब परिवारों को प्रति माह 6000 की राशि की सरकार घोषणा कर चुकी है।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के उद्देश्य 

  • किसानों को एक न्यूनतम आय उपलब्ध कराई जाएगी।
  • किसान न्यूनतम आय योजना के तहत किसानों को लाभ सीधे उनके बैंक खाते में पहुंचाया जाएगा ।
  • राज्य के किसानों को उनकी धान की फसल पर लाभ पहुँचाया जाएगा।
  • खरीफ की धान और मक्का जैसी फसलों पर किसानों को एक निश्चित राशि मुहैया कराई जाएगी।
  • इससे किसानो को अच्छा खासा फायदा होगा।
  • योजना में धान फसल के लिए 18 लाख 34 हजार 834 किसानों को प्रथम किश्त के रूप में 1500 करोड़ रूपए की राशि प्रदान की जाएगी।
  • राज्य सरकार 5700 करोड़ रूपए की राशि चार किस्तों में सीधे किसान के खातों में भेजेगी।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना

बजट 2020 -21 में की गई घोषणा

  • प्रदेश में गरीबी के स्तर में कमी आई है।
  • प्रदेश की जीडीपी में सात फीसदी से अधिक की बढ़ोत्तरी होने का अनुमान है ।
  • किसान न्यूनतम योजना (Kisan NYAY Scheme ) की घोषणा कर दी गई है ।
  • किसानों के लिए मजदूर रोजगार और शिक्षा योजना के ऊपर भी घोषणा की गई है ।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत फसलों की निर्धारित समर्थन मूल्य

  • वनोपजों की संख्या 7 से बढ़ाकर अब 25 कर दी गई है।
  • महुआ फूल के निर्धारित समर्थन मूल्य 17 रुपए प्रति किलो में राज्य सरकार 13 रुपए प्रति किलो अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दे रही है।
  • गन्ना फसल के लिए पेराई वर्ष 2019-20 में सहकारी कारखाना द्वारा क्रय किए गए गन्ने की मात्रा के आधार पर एफआरपी राशि 261 रुपए प्रति क्विंटल और प्रोत्साहन तथा सहायता राशि 93.75 रुपए प्रति क्विंटल अर्थात अधिकतम 355 रुपए प्रति क्विंटल की दर से भुगतान किया जाएगा।
  • राज्य के 34 हजार 637 किसानों को 73 करोड़ 55 लाख रुपए चार किश्तों में मिलेगा।
  • प्रथम किश्त 18 करोड़ 43 लाख 21 मई को हस्तांतरित की जाएगी।
  • वर्ष 2018-19 में सहकारी शक्कर कारखानों के माध्यम से खरीदे गए गन्ने की मात्रा के आधार पर 50 रूपए प्रति क्विंटल की दर से प्रोत्साहन राशि (बकाया बोनस) भी प्रदान करने जा रही है।
  • राज्य के 24 हजार 414 किसानों को 10 करोड़ 27 लाख रूपए दिया जाएगा।
  • धान की फसल के लिए 18 लाख 34 हजार 834 किसानों को प्रथम किस्त के रूप में 1500 करोड़ रूपए की राशि प्रदान की जाएगी।
  • 2019 में सहकारी समिति के माध्यम से उपार्जित मक्का फसल के किसानों को भी लाभ देने का निर्णय लिया है।
  • मक्का फसल के आंकड़े लिए जा रहे है, जिसके आधार पर आगामी किश्त में उनको भुगतान किया जाएगा।
  • योजना में खरीफ 2020 से दलहन और तिलहन को भी शामिल करने का फैसला किया है।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के लाभ

  • राज्य के जीडीपी में सुधार होगा।
  • किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।
  • किसान न्याय योजना का लाभ केवल छत्तीसगढ़ के किसानों को ही दिया जाएगा।
  • योजना के तहत आवेदन केवल धान की फसल के लिए ही की जा सकती हैं ।
  • किसानों को धान के फसल में उचित रकम उपलब्ध होगी।
  • धान की फसल में अंतर की राशि किसानों के सीधे बैंक खाते में पहुंचाया जाएगा।
  • किसान अपनी धान की अच्छी खेती कर सकते है।

 

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट की जानकारी (पासबुक के प्रथम पृष्ठ की कॉपी )
  • निवास प्रमाण पत्र
  • धान की खेती के प्रमाण पत्र
  • किसान के पासपोर्ट साइज फोटो
  • अन्य दस्तावेज (जानकारी आने पर अपडेट कर देंगे )

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana आवेदन

आवेदन करने के लिए इच्छुक लाभार्थी को अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। सरकार के द्वारा अभी केवल किसान न्यूनतम योजना (NYAY Scheme) की घोषणा की गई है। योजना 21 मई से शुरू की जाएगी, तभी से योजना के लिए आवेदन शुरू होंगे। जैसे ही योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया प्रारम्भ होगी, हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बता देंगे।

जब भी ऑनलाइन आवेदन शुरू होंगे तब आप निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके आवेदन प्रक्रिया कर सकते है।

  • सबसे पहले न्याय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं । (वेबसाइट लिंक जल्दी ही अपडेट करेंगे )
  • आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको ऑनलाइन आवेदन करें का एक लिंक दिखेगा।
  • लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने दिशा निर्देश आ जाएंगे।
  • दिशा निर्देश को पढ़ें और Continue के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • अब आपके सामने एक नया पेज आ जाएगा जिसमें आप को न्याय आवेदन फॉर्म दिखेगा।
  • आवेदन फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी को ध्यान पूर्वक भरे ।
  • आवश्यक दस्तावेजों को स्कैन करें और अपलोड करें ।
  • अपलोड करते ही आपका आवेदन न्याय योजना के तहत हो जाएगा।
  • इसके बाद Kisan NYAY Scheme Application Receipt Print करें और इसे सुरक्षित रखें।

छत्तीसगढ़ भूलेख खसरा खतौनी की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।

Note- हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है।अगर आपको ये जानकारी सही लगे तो दूसरो के साथ भी साँझा कीजिये। कोई त्रुटि हो तो हमे जरूर बताए।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (FAQ)

किसान न्याय योजना क्या है?

छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों को न्यूनतम आय उपलब्ध कराने के लिए इस योजना की शुरुआत की हैं। इसके तहत किसानों को धान के फसल पर एक उचित रकम उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया गया है।

छतीसगढ़ न्याय स्कीम का आधिकारिक नाम क्या है?

योजना का पूरा नाम राजीव गाँधी किसान न्याय योजना है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का उद्देश्य क्या है?

योजना का उद्देश्य COVID 19 संकट के बीच ग्रामीण अर्थव्यवस्था और किसानों को प्रोत्साहन प्रदान करना है।

न्याय योजना की शुरुवात कब हुई?

स्वर्गीय श्री राजीव गाँधी की पुण्य तिथि के अवसर पर 21 May 2020 को योजना की आधिकारिक रूप से शुरुआत होगी।

न्याय योजना में आवेदन कैसे होगा?

योजना के आवेदन से सम्बंधित अभी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। योजना के शुरू होने के बाद ही इसकी आवेदन प्रक्रिया पता चलेगी।

न्याय योजना को न्यूनतम आय योजना क्यों कहा गया है?

योजना के तहत सरकार किसानों को तय किया हुआ न्यूनतम अमाउंट देने की गारंटी देती है इसीलिए इसे न्यूनतम आय योजना कहा गया है ।

Nyay Scheme Full Form

Nyuntam Aay Yojana (किसान न्यूनतम आय योजना )

न्याय योजना का लाभ किन किसानों को दिया जाएगा ?

अभी केवल न्याय का लाभ छत्तीसगढ़ के किसानों को ही दिया जाएगा ।
 

Leave a Comment