दिल्ली संपत्ति पंजीकरण 2021-ऑनलाइन आवेदन करें

दिल्ली संपत्ति पंजीकरण | Delhi Property Registration | Online Registration Delhi Property

Delhi Property Registration-  दिल्ली में किसी भी सम्पति के पंजीकरण के लिए आपको राजस्व विभाग संबंधित उपखंड के 15 उप-पंजीयक कार्यालय द्वारा किया जाता है। आपको किसी भी अचल सम्पति के लेनदेन के लिए सम्पति का पंजीकरण अनिवार्य है। दिल्ली में सम्पति का पंजीकरण उप-रजिस्ट्रार कार्यालय द्वारा किया जाता है। इस लेख के माध्यम से आज हम आपको Delhi Property Registration की जानकारी प्रदान कर रहे है। सम्पति के पंजीकरण से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकरी के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहे।

दिल्ली संपत्ति पंजीकरण
दिल्ली संपत्ति पंजीकरण

दिल्ली संपत्ति पंजीकरण Act

दिल्ली में अधिनियम, 1908 के अनुसार, बिक्री या शीर्षक विलेख, संप्रेषण विलेख, पट्टा विलेख, उपहार विलेख और बिक्री सम्पति पंजीकरण किया जाता है। सम्पति पंजीकरण के लिए आपको विभिन्न आवश्यक दस्तावेजों को अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करना होगा। सम्पति पंजीकरण से सम्बंधित जैसे -विल, अटॉर्नी की सामान्य शक्ति, अटॉर्नी की विशेष शक्ति, ट्रस्ट डीड, साझेदारी विलेख आदि दस्तावेज रजिस्ट्रार कार्यालय के माध्यम से वैकल्पिक रूप पंजीकृत किये जाते है।

Delhi Property Registration Highlights
आर्टिकल दिल्ली संपत्ति पंजीकरण
उद्देश्य संपत्ति का पंजीकरण करना
लाभार्थी राज्य के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइट Click Here

Property Document

किसी भी प्रकार की सम्पति की खरीदारी से पहले आपको सम्पति के मामलों से सम्बंधित वकील से संपत्ति से सम्बंधित सभी प्रकार के दस्तावेजों का सत्यापन जरूर करवाना चाहिए।

Cick Here For :-दिल्ली भूलेख खसरा खतौनी ऑनलाइन 2021 डाउनलोड

Mother Deed or Parent Documents

सम्पति से जुड़ा हुआ मूल दस्तावेज एक एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तवेज है ,जिसके माध्यम से आप संपत्ति के स्वामित्व का आसानी से पता लगा सकतें है। सम्पति से सम्बंधित से ऋण के लिए आपको माता -पिता का पहचान सम्बंधित दस्तवेजों की आवशयकता होती है।

Building Plan Approval

अगर आप अपने घर सम्बंधित पंजीकरण के लिए आवेदन कर रहे है तो आपको बिल्डिंग प्लान की मंजूरी लेनी होगी। बिल्डिंग प्लान के आधार पर यह सुनिश्चित किया जाता है, की कोई विचलन तो नहीं है। जिसके लिए भवन निर्माण की मंजूरी को वास्तविक बिल्ट-अप संपत्ति के खिलाफ जांच भी सकती है।

Encumbrance Certificate

किसी संपत्ति के लेन-देन के लिए एक एन्कोम्ब्रेंस प्रमाणपत्र एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है। जो हमें संपत्ति लेनदेन में अंतर्दृष्टि प्रदान करता है। एक अतिक्रमण प्रमाणपत्र, बंधक प्रमाण पत्र, शीर्षक हस्तांतरण, या कानूनी रूप से संपत्ति का पंजीकृत लेनदेन एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। जिसे 15 वर्ष तक सुनिश्चित करना अनिवार्य है।

Documents Required for Registration of Property

सम्पति के पंजीकरण के लिए आपको निम्नलिखित आवशयक दस्तावेजों की आवेदन फॉर्म के साथ संलग्र करना होगा।

  • विक्रय विलेख
  • लीज डीड
  • अटॉर्नी की एक सामान्य शक्ति
  • उपहार विलेख
  • वसीयत
  • अन्य संपत्ति दस्तावेज
  • डीडीए संपत्ति के रूप में रूपांतरण पट्टेदारी
  • एल एंड डी PROPERTY फार्म का रूपांतरण फ्रीहोल्ड का रूपांतरण
  • डीडीए / एमसीडी में नाम का उल्लेख / प्रकाशन

Stamp Duty Charges in Delhi

दिल्ली में संपत्ति दस्तावेज पंजीकरण के लिए निम्नलिखित लागू शुल्क देय है।

  • स्टैम्प ड्यूटी और ट्रांसफर ड्यूटी प्रतिवादी महिला व पुरुष के लिए क्रमश 4 %, 6% है।
  • पंजीकरण शुल्क बिक्री विलेख मूल्य का का 1% + 100 रूपये pasting charge

Leave a Comment

65 + = 74

error: Content is protected !!