[Yojana] Swachh Bharat Mission 2021 | स्वच्छ भारत अभियान क्या है?

स्वच्छ भारत अभियान | Swachh Bharat Mission | स्वच्छ भारत मिशन 2021| स्वच्छ भारत अभियान क्या है?

Swachh Bharat Mission- हमारे देश में स्वच्छता पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया जाता है। आपने देखा होगा कि हमारे देश का कोई भी बड़ा राज्य हो या शहर हो या फिर गांव हो या फिर कोई गली या मोहल्ला हो – वहां पर भी आपको कूड़ा करकट मिलेगा। हमारे देश को स्वच्छ बनाने के लिए भारत सरकार ने एक नई योजना निकाली है, जिसका नाम ‘स्वच्छ भारत अभियान’ रखा गया है। इस अभियान के तहत सभी देशवासियों को इसमें शामिल होने के लिए कहा गया है। स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा चलाया गया सबसे महत्वपूर्ण स्वच्छता अभियान है।

Swachh Bharat Mission
Swachh Bharat Mission

Swachh Bharat Mission क्या है?

स्वच्छ भारत मिशन एक व्यापक जन आंदोलन है जो एक स्वच्छ भारत बनाने का प्रयास करता है। यह अभियान आधिकारिक रूप से 1999 से चला रहा है पहले इसका नाम ग्रामीण स्वच्छता अभियान था, लेकिन 1 अप्रैल 2012 को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस योजना में बदलाव करते हुए इस योजना का नाम निर्मल भारत अभियान रख दिया और बाद में सरकार ने इसका पुनर्गठन करते हुए इसका नाम पूर्ण स्वच्छता अभियान कर दिया था। स्वच्छ भारत अभियान के रूप में 24 सितंबर 2014 को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस को मंजूरी मिल गई। हमारे राष्ट्र के पिता श्री महात्मा गांधी हमेशा स्वच्छ पर जोर देते हैं क्योंकि स्वच्छ भारत स्वस्थ और समृद्ध जीवन की ओर जाता है। इसे ध्यान में रखते हुए, स्वच्छ भारत अभियान का उद्घाटन माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने महात्मा गाँधी जी की 145 वीं जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर 2014 को किया। यह मिशन सभी ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों को कवर करेगा।

Swachh Bharat Mission के तहत क्या क्या किया जाएगा?

  • मिशन के शहरी घटक को शहरी विकास मंत्रालय द्वारा और ग्रामीण घटक पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय द्वारा लागू किया जाएगा।
    उन्होंने राजपथ पर जनसमूहों को संबोधित करते हुए राष्ट्रवादियों से स्वच्छ भारत अभियान में भाग लेने और इसे सफल बनाने को कहा।

  • नरेंद्र मोदी जी ने सम्बोधित करते हुए कहा की- “देश की सफाई एकमात्र सफाई-कर्मियों की जिम्मेदारी नहीं है, क्या इस में नागरिकों की कोई भूमिका नहीं है, हमें इस मानसिकता को बदलना होगा।”

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए दिल्ली कि वाल्मीकि बस्ती में सड़कों पर झाड़ू लगाई थी।
    जिससे देश के लोगों में यह जागरुकता आए कि अगर हमारे देश का प्रधानमंत्री देश को स्वच्छ करने के लिए सड़क पर झाड़ू लगा सकता है, तो हमें भी अपने देश को स्वच्छ रखने के लिए अपने आसपास सफाई रखनी होगी।

pm modi 01

  • प्रधान मंत्री ने जनता और विभिन्न विभागों एवं संस्थाओं द्वारा स्वच्छ भारत मिशन में हिस्सा लेने और एक स्वच्छ भारत के निर्माण में अपना योगदान देने के लिए किए जाने वाले प्रयत्नों की सराहना की है। श्री नरेन्द्र मोदी ने सोशल मीडिया में जनता की भागीदारी की हमेशा मुक्त कंठ से प्रशंसा की है। साथ ही साथ स्वच्छ भारत अभियान के एक हिस्से के तौर पर ‘#MyCleanIndia’ अभियान भी शुरू किया गया है ताकि सफाई-सुथराई के लिए चलाए जा रहे इस अभियान में नागरिकों के योगदान को उजागर किया जा सके।

Swachh Bharat Mission का उद्देश्य

स्वच्छ भारत अभियान का प्रमुख उद्देश्य समाज को स्वछता के प्रति जागरूक करना है। यह सिर्फ आपने आस -पास की सफाई से ही सम्बन्धित नहीं है। अपितु नागरिकों की सहभागिता से एक स्वच्छ भारत का निर्माण करना है।जब स्वच्छ रहेगा इंडिया तभी तो आगे बढ़ेगा का इंडिया। स्वच्छ भारत अभियान के निम्नलिखित बिंदु है।

(1) इस अभियान का प्रथम उद्देश्य है कि देश का हर कोना साफ हो।
(2) खुले में शौच बंद करवाना जिसके कारण हर साल हजारों बच्चों की मौत हो जाती है।
(3) गांवो को साफ रखना।
(4) लगभग 11 करोड़ 11 लाख व्यक्तिगत, सामूहिक शौचालयों का निर्माण करवाना जिसमे 1 लाख 34 हजार करोड रुपए खर्च होंगे।
(5) सड़के फुटपाथ ओर बस्तियां साफ रखना।
(6) लोगों की मानसिकता को बदलना उचित स्वच्छता का उपयोग करके।
(7) शौचालय उपयोग को बढ़ावा देना और सार्वजनिक जागरूकता को शुरू करना।
(8) 2019 तक सभी घरों में पानी की पूर्ति सुनिश्चित कर के गांवों में पाइपलाइन लगवाना जिससे स्वच्छता बनी रहे।
(9) साफ सफाई के जरिए सभी में स्वच्छता के प्रति जागरूकता पैदा करना।

स्वच्छ भारत अभियान की ऑफिशल वेबसाइट पर क्लिक करे – स्वच्छ भारत वेबसाइट लिंक

भारत सरकार ने ‘स्वच्छ भारत मिशन’ को दो भागों में बांटा है। एक स्वच्छ भारत अभियान ग्रामीण तथा दूसरा स्वच्छ भारत अभियान शहरीय

Swachh Bharat Mission ग्रमीण

  • इसके तहत गांवों में हर घर में शौचालय बनाने और खुले में शौच मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है. मिशन का उद्देश्य भारत को पांच वर्षों में खुले में शौच मुक्त देश बनाना है।
  • यह ठोस और तरल कचरा प्रबंधन गतिविधियों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता के स्तर में सुधार करना और ग्राम पंचायतों को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) बनाना, स्वच्छ और स्वच्छता बनाना चाहता है।
  • मिशन के तहत, देश में लगभग 11 करोड़ 11 लाख शौचालयों के निर्माण के लिए एक लाख चौंतीस हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • भारत के ग्रामीण इलाक़े, कितने खुले में शौच मुक्त हो पाए हैं, उस पर NARSS नाम की एक स्वतंत्र एजेंसी ने सर्वे किया है.
  • नवंबर 2017 और मार्च 2018 के बीच किए गए इस सर्वे में 77 फीसदी ग्रामीण घरों में शौचालय पाए गए और ये भी बताया गया कि भारत में 93.4 फ़ीसदी लोग शौचालय का इस्तेमाल करते हैं.

    स्वच्छ भारत ग्रमीण के आंकड़े देखने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करे – स्वच्छ भारत ग्रमीण वेबसाइट लिंक

स्वच्छ भारत अभियान data

Swachh Bharat Mission शहरी 

  • घरों के अलावा सार्वजनिक स्थानों पर भी शौचालय हो, ये इस मिशन का मक़सद है।
  • कार्यक्रम में खुले में शौच को खत्म करना, फ्लश शौचालय डालना, मैन्युअल मैला ढोना, नगरपालिका ठोस कचरा प्रबंधन और स्वस्थ स्वच्छता प्रथाओं के बारे में लोगों में व्यवहार परिवर्तन लाने के लिए असमान शौचालयों का रूपांतरण शामिल है।
  • मिशन का लक्ष्य 1.04 करोड़ घरों को कवर करना है।
  • प्रत्येक शहर में 2.5 लाख सामुदायिक शौचालय, 2.6 लाख सार्वजनिक शौचालय और एक ठोस कचरा प्रबंधन सुविधा प्रदान करना है।
  • कार्यक्रम के तहत, सामुदायिक शौचालय आवासीय क्षेत्रों में बनाए जाएंगे जहां व्यक्तिगत घरेलू शौचालयों का निर्माण करना मुश्किल है।
  • सार्वजनिक स्थानों जैसे पर्यटन स्थानों, बाजारों, बस स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों आदि में भी सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण किया जाएगा।
  • कार्यक्रम 4,401 शहरों में पांच साल की अवधि में लागू किया जाएगा।
  • कार्यक्रम पर 62,009 करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है।
  • इसमें से, केंद्र 14,623 करोड़ रुपये में पिच करेगा।
  • केंद्र की 14,623 करोड़ रुपये की हिस्सेदारी में से, 7,366 करोड़ रुपये ठोस अपशिष्ट प्रबंधन पर, 4,165 करोड़ रुपये व्यक्तिगत घरेलू शौचालयों पर, सार्वजनिक जागरूकता पर 1,828 करोड़ रुपये और सामुदायिक शौचालयों पर 655 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

    स्वच्छ भारत शहरी के आंकड़े देखने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करे –  स्वच्छ भारत शहरी वेबसाइट लिंक

आयुष्मान भारत योजना 2021

स्वच्छ भारत अभियान data report

Ministry involved in Swachh Bharat Abhiyan

स्वच्छ भारत अभियान में भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालय शामिल है।

(1) शहरी विकास मंत्रालय
(2) राज्य सरकार
(3) ग्रामीण विकास मंत्रालय
(4) गैर सरकारी संगठन
(5) पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय
(6) सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम व निगम

 

इस प्रकार स्वच्छ भारत अभियान से जुड़ कर ये सभी मंत्रालय अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। सभी मंत्रालय अपने-अपने स्तर पर स्वच्छ भारत अभियान के उद्देश्यों को हासिल करने के लिए प्रयासरत हैं।

मेक इन इंडिया योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।

Swachh Bharat Clean School Campaign

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने एक वर्ष के भीतर सभी सरकारी स्कूलों में लड़कों और लड़कियों के लिए अलग-अलग शौचालय उपलब्ध कराने के उद्देश्य से स्वच्छ भारत मिशन के तहत 25 सितंबर, 2014 से 31 अक्टूबर 2014 के बीच केंद्रीय विद्यालयों और नवोदय विद्यालय संगठन में स्वच्छ विद्यालय कार्यक्रम शुरू किया है। कार्यक्रम का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि देश के प्रत्येक स्कूल में आवश्यक हस्तक्षेप का एक सेट होना चाहिए जो एक अच्छे जल, स्वच्छता और स्वच्छता कार्यक्रम के तकनीकी और मानव विकास दोनों पहलुओं से संबंधित हो। मंत्रालय सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए) और राष्ट्रीय शिक्षा अभियान अभियान (आरएएसए) के तहत स्कूलों में लड़कियों और लड़कों के लिए शौचालय उपलब्ध कराने के लिए राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के बीच वित्तीय सहायता करता है।

Activities covered under Swachh Bharat Swachh Vidyalaya Abhiyan

  • शौचालयों और पीने के पानी वाले क्षेत्रों की सफाई करना।
  • खेल के मैदान की सफाई करना
  • स्कूल बगीचों का रखरखाव और सफाई करना।
  • रसोई और सामान ग्रह की सफाई करना।
  • स्कूल भवनों का वार्षिक रखरखाव रंगाई एवं पुताई के साथ।
  • निबंध,वाद-विवाद, चित्रकला, सफाई और स्वच्छता पर प्रतियोगिताओं का आयोजन।
  • कक्षा, प्रयोगशाला और पुस्तकालयों आदि की सफाई करना।
  • स्कूल कक्षाओं के दौरान प्रतिदिन बच्चों के साथ सफाई और स्वच्छता के विभिन्न पहलुओं पर SBA विशेष रूप से महात्मा गांधी की स्वच्छता और अच्छे स्वास्थ्य से जुड़ीं शिक्षाओं के संबंध में बात करें।
  • ‘बाल मंत्रिमंडलों का निगरानी दल बनाना और सफाई अभियान की निगरानी करना।
  • स्कूल में स्थापित किसी भी मूर्ति या स्कूल की स्थापना करने वाले व्यक्ति के योगदान के बारे में बात करना और इस मूर्तियों की सफाई करना।

इसके अलावा फिल्म शो, स्वच्छता पर निबंध / चित्रकारी और अन्य प्रतियोगिताएं, नाटकों आदि के आयोजन द्वारा स्वच्छता एवं अच्छे स्वास्थ्य का संदेश प्रसारित करना।
मंत्रालय ने इसके अलावा स्कूल के छात्रों, शिक्षकों, अभिभावकों और समुदाय के सदस्यों को शामिल करते हुए सप्ताह में दो बार आधे घंटे सफाई अभियान शुरू करने का प्रस्ताव भी रखा है।

स्वच्छ भारत स्वच्छ विद्यालय पीडीऍफ़ (PDF) के लिए यहाँ क्लिक करे – स्वच्छ भारत स्वच्छ विद्यालय पीडीऍफ़ (PDF)

Swachh Bharat Mission साफ शहरों की सूची 

  • भारत सरकार ने 15 फरवरी 2016 को सफाई रैंकिंग जारी की।
  • सफाई सेलेक्शन -2016 में 73 शहरों को सफाई और स्वच्छता के आधार पर स्थान देता है।
  • 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों की जांच के लिए सर्वेक्षण किया गया था कि वे कितने स्वच्छ या गंदे थे।

सर्वाधिक स्वच्छ 10 नगर /Swachh Bharat Mission

  • इंदौर (मध्य प्रदेश)
  • भोपाल (मध्य प्रदेश)
  • चंडीगढ़
  • नई दिल्ली
  • विशाखापत्तनम (आंध्र प्रदेश)
  • सूरत (गुजरात)
  • राजकोट (गुजरात)
  • गंगटोक (सिक्किम)
  • पिंपरी चिंचवड (महाराष्ट्र)
  • ग्रेटर मुंबई (महाराष्ट्र)

सूची के नीचे के 10 शहर /Swachh Bharat Mission

  • कल्याण डोंबिवली (महाराष्ट्र)
  • वाराणसी (उत्तर प्रदेश)
  • जमशेदपुर (झारखंड)
  • गाज़ियाबाद (उत्तर प्रदेश)
  • रायपुर (छत्तीसगढ़)
  • मेरठ (उत्तर प्रदेश)
  • पटना (बिहार)
  • इटानगर (अरुणाचल प्रदेश)
  • आसनसोल (पश्चिम बंगाल)
  • धनबाद (झारखंड)

Note- हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है। हमारे द्वारा प्रदान की गयी जानकारी आपको कैसी लगी , कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं। तथा अन्य किसी भी प्रकार की योजनाओं से सम्बंधित जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट yojanasarkari.in से बने रहे। धन्यवाद

स्वच्छ भारत अभियान क्या है?

देश में स्वच्छता के प्रति लोगो को जागरूक बनाने, तथा स्वछता को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा शुरू किये गए अभियान को स्वच्छ भारत अभियान कहते है।

सरकार स्वच्छ भारत अभियान कब शुरू किया गया था?

स्वच्छ भारत मिशन, स्वच्छ भारत अभियान या स्वच्छ भारत मिशन एक देशव्यापी अभियान है जो 2014 में भारत सरकार द्वारा खुले में शौच को खत्म करने और ठोस अपशिष्ट प्रबंधन को बेहतर बनाने के लिए शुरू किया गया है।

Leave a Comment