प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2021: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पात्रता

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना | वय वंदना योजना आवेदन रजिस्ट्रेशन | वय वंदना योजना आवेदन फॉर्म | PMVVY Scheme Online Apply | PMVVY Scheme In Hindi

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना-  यह योजना एक सामाजिक सुरक्षा योजना और पेंशन योजना है। यह योजना भारत सरकार द्वारा है लेकिन LIC द्वारा चलाई जा रही है। इस योजना के तहत निवेश करने की अधिकतम सीमा पहले साढ़े सात लाख थी जिसे अब बढ़ाकर 15 लाख रुपये कर दिया गया है, साथ ही इस पीएमवीवीवाई योजना 2021 में निवेश करने की समय सीमा पहले 3 मई, 2018 थी, जिसे बढ़ाकर 31 मार्च 2020 कर दिया गया है | आज हम आपको इस लेख के माध्यम से प्रधान मंत्री वय वंदना योजना 2021 के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जैसे आवेदन प्रक्रिया, दस्तावेज, पात्रता, दिशा-निर्देश आदि। अगर आप इस योजना से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमारे द्वारा दिए गए इस लेख को अंत तक पढ़े |

Table of Contents

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना

प्रधान मंत्री वय वंदना योजना का शुभारंभ 4 मई 2017 को भारत सरकार द्वारा देश के वरिष्ठ नागरिकों के लिए किया गया था। जो की मार्च 2020 को बंद हो गयी थी मगर इस 26 मई को दुबारा शुरू किया गया है अब इसकी अंतिम तारीख 31 मार्च 2023 रखी गयी है | यह एक पेंशन योजना है। इस योजना के तहत, 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक मासिक पेंशन का विकल्प चुनते हैं, उन्हें 10 वर्षों के लिए 8% ब्याज मिलेगा, यदि वे वार्षिक पेंशन विकल्प चुनते हैं, तो उन्हें 10 वर्षों के लिए 8.3% ब्याज मिलेगा। | प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को उनके निवेश पर अच्छा ब्याज मिलेगा।

PMVVY योजना का उद्देश्य वरिष्ठ नागरिकों (60 वर्ष और अधिक) को खरीद मूल्य / सदस्यता राशि पर सुनिश्चित रिटर्न के आधार पर न्यूनतम पेंशन की गारंटी देना है। इस योजना के तहत, वरिष्ठ नागरिकों को न्यूनतम पेंशन 12,000 रुपये प्रति वर्ष के लिए 1,56,658 रुपये और न्यूनतम पेंशन 1000 रुपये प्रति माह के लिए 1,62,162 रुपये निवेश करना होगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना आवेदन

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत, वरिष्ठ नागरिक अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं। इस योजना के तहत, अब प्रति वर्ष अधिकतम निवेश सीमा को प्रति परिवार से बदलकर प्रति नागरिक कर दी गई है। इसका मतलब है कि अगर एक परिवार में दोनों पति-पत्नी वरिष्ठ नागरिक हैं, तो वे दोनों 15 – 15 लाख रुपये अलग से निवेश कर सकते हैं। आप बोनस का लाभ भी उठा सकते हैं। पीएमवीवीवाई योजना 2021 के तहत, पेंशनभोगी को पेंशन के रूप में ब्याज राशि लेने का अधिकार है।

राशि जमा करने के 1 साल, 6 महीने, 3 महीने, 1 महीने के बाद पेंशन की पहली किस्त मिलेगी, इस आधार पर कि आप कौन सा विकल्प चुनते हैं, अगर देश के इच्छुक लाभार्थी इस पीएमवीवीवाई योजना 2021 के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो वे कर सकते हैं। ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों पॉलिसी खरीद सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन, आप एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण करके पॉलिसी खरीद सकते हैं और एलआईसी की शाखा पर जाकर ऑफ़लाइन आवेदन कर सकते हैं। और आप पीएम वय वंदना योजना 2021 का लाभ उठा सकते हैं।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की ब्याज दरें

पेंशन विकल्प तय बियाज दर
मासिक 7.40%
तिमाही 7.45%
छमाही 7.52%
सालाना 7.60%

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का विवरण

योजना का नाम प्रधानमंत्री वय वंदना योजना
द्वारा लॉन्च की गयी भारतीय जीवन बीमा निगम
लाभार्थी भारत के वरिष्ठ नागरिक
उद्देश्य देश के वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2021

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का उद्देश्य

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के वरिष्ठ नागरिकों (60 वर्ष या इससे अधिक) को पेंशन प्रदान करना है। यह पेंशन उन्हें उनके द्वारा किए गए निवेश पर ब्याज का भुगतान करके प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से, देश के वरिष्ठ नागरिक आत्मनिर्भर बनेंगे और उन्हें बुढ़ापे में दूसरों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। इस योजना के माध्यम से वरिष्ठ नागरिकों के बीच वित्तीय स्वतंत्रता उत्पन्न होगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना फ्री लुक पीरियड

अगर कोई पॉलिसी धारक प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के नियमों और शर्तों से संतुष्ट नहीं है, तो वह पॉलिसी लेने के 15 से 30 दिनों के भीतर पॉलिसी वापस कर सकता है। यदि पॉलिसी ऑफ़लाइन खरीदी जाती है, तो उसे 15 दिनों के भीतर लौटाया जा सकता है और यदि पॉलिसी ऑनलाइन खरीदी जाती है, तो उसे 30 दिनों के भीतर लौटाया जा सकता है। पॉलिसी वापस करते समय, पॉलिसी को वापस करने का कारण प्रदान करना भी जरुरी है। यदि पॉलिसी धारक पॉलिसी वापस करता है, तो उसे स्टांप शुल्क और संचित पेंशन राशि की कटौती के बाद खरीद मूल्य वापस कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना न्यूनतम और अधिकतम खरीद मूल्य

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत पेंशन के विभिन्न प्रकारो के लिए न्यूनतम और अधिकतम खरीद मूल्य निम्नलिखित है-:

मोड ऑफ पेंशन न्यूनतम खरीद मूल्य अधिकतम खरीद मूल्य
वार्षिक Rs 1,44,578 Rs 7,22,892
छमाही Rs 1,47,601 Rs 7,38,007
त्रैमासिक Rs 1,49,068 Rs 7,45,342
मासिक Rs 1,50,000 Rs 7,50,000

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना दिसंबर अपडेट

भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा कई बीमा योजनाओं में से एक प्रधान मंत्री वय वंदना योजना है। इस योजना के तहत लाभार्थियों को पेंशन राशि प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत, सरकार ने पेंशन की दर को संशोधित किया है और वित्तीय वर्ष 2020-21 से तीन साल के लिए योजना की बिक्री की अवधि को बढ़ाकर 31 मार्च 2023 तक कर दिया है। प्रत्येक वर्ष प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत बेची गई बीमा दरें , नियम और शर्तों के अनुसार, पेंशन की गारंटीकृत दरों की समीक्षा की जाएगी और यह वित्त मंत्रालय द्वारा प्रत्येक वर्ष की शुरुआत में तय किया जाएगा कि उस वर्ष की गारंटीकृत दर कितनी होगी। 31 मार्च 2021 तक पेंशन 7.40% प्रति वर्ष की दर से प्रदान की जाएगी।

पेंशन लेने के विकल्प

  • मासिक
  • तिमाही
  • छमाही
  • सालाना

के आधार पर लेने का विकल्प है आप अपनी इच्छानुसार कोई भी विकल्प को चुन सकते है | पेंशन का भुकतान एनईएफटी द्वारा या आधार सक्षम भुकतान प्रणाली के माध्यम से किया जायेगा |

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के मच्योरिटी बेनिफिट्स

  • पेंशन राशि 10 वर्ष की पॉलिसी अवधि तक जीवित रहने पर जमा राशि के साथ पेंशन भी दी जाएगी।
  • यदि पॉलिसी अवधि के 10 वर्ष के भीतर पेंशनर की मृत्यु हो जाती है, तो जमा राशि को नॉमिनी (नामिती) को वापस कर दिया जाएगा।
  • यदि पेंशनर आत्महत्या करता है, तो जमा की गई राशि वापस कर दी जाएगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना सरेंडर वैल्यू

यदि कोई व्यक्ति प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत भुगतान करने में सक्षम नहीं है। या किसी कारण से, धन की आवश्यकता है और वह इस योजना को छोड़ना चाहता है। इस मामले में भुगतान की गई राशि का 98% वापस कर दिया जाएगा। इसके अलावा, यदि आप इस नीति के नियमों और शर्तों से संतुष्ट नहीं हैं। इस स्थिति में, यदि आपने पॉलिसी को ऑफ़लाइन खरीदा है तो 15 दिनों के भीतर और यदि आपने पॉलिसी को ऑनलाइन खरीदा है, तो 30 दिनों के भीतर आप इसे वापस कर सकते हैं। आपके द्वारा भुगतान की गई पूरी राशि आपको वापसी पर प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना लोन सुविधा

आप प्रधान मंत्री वय वंदना योजना के तहत भी ऋण प्राप्त कर सकते हैं। ये ऋण पॉलिसी के 3 साल पूरे होने के बाद प्राप्त किया जा सकता हैं। इस योजना के तहत आपको भुगतान की गई राशि का 75% तक प्रदान किया जा सकता है। इस ऋण पर ब्याज दर 10% होगी। लोन की धनराशि पर ब्याज हर तिमाही तय होती है | आप जब तक लोन की रकम वापस नहीं कर देते तब तक आपको हर 6 महीने पर ब्याज देना होगा | ब्याज की रकम दी जाने वाली पेंशन से ही काटी जाएगी |

वय वंदना योजना की कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

आयु 60 वर्ष (पूर्ण) कोई सीमा नहीं
पालिसी अवधि 10 वर्ष  
पेंशन मोड मासिक, तिमाही, छमाही तथा वार्षिक रूप से (रुपये में)  
खरीदी मूल्य 1,50,000 मासिक
1,49,068 तिमाही
1,47,601 छमाही
1,44,578 वार्षिक
15,00,000 मासिक
14,90,683 तिमाही
14,76,015 छमाही
14,45,783 वार्षिक
पेशन राशि 1,000/- मासिक
3,000/- तिमाही
6,000/- छमाही
12,000/- वार्षिक
10,000/- मासिक
30,000/- तिमाही
60,000/- छमाही
1,20,000/- वार्षिक
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2021 के तहत वरिष्ठ नागरिक की उम्र कम से कम 60 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए | अभी अधिकतम उम्र सीमा कोई निर्धारिक नहीं है |
  • इस योजना की पालिसी की अवधि 10 वर्ष की है |
  • पीएमवीवीवाई योजना 2021 के अंतर्गत सीनियर सिटिज़न अधिकतम 15 लाख रूपये का निवेश कर सकते है |
  •  कम से कम जो पेंशन होगी वह 1000 रूपये है  प्रतिमाह 3000 ,6000 रूपये /छमाही ,12000 रूपये /वर्ष  होगी | अधिकतम 30,000 रूपये /तिमाही ,60 ,000 रूपये /छमाही ,और 1 ,20000 रूपये प्रतिवर्ष होगी |
  • पीएमवीवीवाई योजना देश के वरिष्ठ नागरिको को वृद्धावस्था आय सुरक्षा प्रदान करती है |
  • इस योजना के तहत आपको GST नहीं देनी होगी |

वय वंदना योजना की पात्रता

  • आवेदक भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की न्यूनतम आयु 60 वर्ष होनी चाहिए।
  • अधिकतम आयु की इस योजना के अंतर्गत कोई सीमा नहीं है।

वय वंदना योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • निवास का प्रमाण
  • आयु का प्रमाण
  • आय का प्रमाण
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना

वय वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे करे ?

देश के इच्छुक लाभार्थी, जो प्रधानमंत्री वय वंदन योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, वे ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं, नीचे दी गई विधि का पालन करें और योजना का लाभ प्राप्त करें।

  • सबसे पहले आवेदक को एलआईसी की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा |
  • यहाँ आपको “Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (842)” ऑप्शन के नीचे “Buy Online” लिंक पर क्लिक करना है
  • नया पेज खुलेगा जिसमें योजना की महत्वपूर्ण जानकारी मिलेगी |
  • जानकारी पढ़ लेने के बाद “Click to Buy Online” लिंक पर क्लिक करें | आपसे पहले आपकी कांटेक्ट इनफार्मेशन मांगी जाएगी और एक्सेस आईडी प्रदान की जाएगी जिसके माध्यम से आप ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे

ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया

  • सबसे पहले, आवेदक को अपनी निकटतम एलआईसी शाखा से संपर्क करना होगा। इसके बाद, शाखा के अधिकारी को अपने सभी दस्तावेज देने होंगे और अपनी सारी जानकारी देनी होगी।
  • इस योजना के तहत एलआईसी एजेंट आपके लिए आवेदन करेगा। आवेदन के सत्यापन के बाद, एलआईसी एजेंट इस योजना की आपकी नीति शुरू करेगा।

निष्कर्ष

यह एक पेंशन योजना है, इस योजना के तहत 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिकों को अपनी निवेश की गई रकम पर लगभग 8% प्रतिशत गारंटी रिर्टन मिलता है। इस स्कीम को गुड एंड सर्विस टैक्स से भी बाहर रखा गया है। इस योजना की शुरूआत साल 2017 में की गई थी और अब इस योजना में निवेश करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2023 है।

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। किसी भी अन्य योजना के अधिक विवरण के लिए YojanaSarkari पर हमारे साथ जुड़े रहें, धन्यवाद।

वय वंदना योजना के कुछ महत्वपूर्ण FAQs

वय वंदना पेंशन पालिसी क्या है ?

इस योजना के तहत 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिकों को अपनी निवेश की गई रकम पर लगभग 8% प्रतिशत गारंटी रिर्टन मिलता है।

वय वंदना पेंशन पालिसी कैसे लें?

इस स्कीम में भारतीय जीवन बीमा निगम के जरिए निवेश किया जा सकता है। आप ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी तरह से इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं|

प्रधानमंत्री वय वंदना पेंशन योजना में लोन सुविधा उपलब्ध है

इस योजना के पॉलिसीधारक ऋण की सुविधा 3 पॉलिसी वर्षों के पूरा होने के बाद ले सकते हैं। अधिकतम ऋण जो लिया जा सकता है सकता है,खरीद मूल्य का 75% होगा।

अगर योजना का लाभ ले रहा व्यक्ति आत्महत्या कर ले तो क्या होगा?

आत्महत्या की गणना पर कोई बहिष्करण नहीं होगा और पूर्ण खरीद मूल्य देय होगा ।

Leave a Comment

11 + = 21

error: Content is protected !!