Categories: Central Govt Schemes

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन | MSME Loan Registration 2020 | udyogaadhaar.gov.in

MSME लोन रजिस्ट्रेशन | MSME Loan Registration in hindi | MSME Loan Registration | udyogaadhaar.gov.in | Udyog Aadhar registration | MSME Online |  एमएसएमई उद्योग ऋण ऑनलाइन पंजीकरण | एमएसएमई उद्योग पंजीकरण | MSME लोन योजना | How to apply for MSME loan |  udyogaadhaar.gov.in

MSME लोन : जैसा कि कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री जी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत २० लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा की है जिसको कि बित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने बहुत बिस्तर पूर्वक समझाया और बताया कि प्रधानमंत्री जी द्वारा दिए गए इस पैकेज मैं से MSME (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) सेक्टर को 3 लाख करोड़ रुपये का लोन गारंटी फ्री मिलेगा।

जिसका असर आने वाले समय में भारत की अर्थव्‍यवस्‍था पर जरूर दिखाई देने लगेगा। इस पैकेज के कारण देश में 45 लाख MSME सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों को फायदा होगा। इसके साथ भारत के MSME सेक्टर को विदेशी कंपनियों से अनुचित प्रतिस्पर्धा से बचने के लिए सरकार ने एक नई नीति की भी घोषणा की है।

 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) | शिशु मुद्रा लोन

एमएसएमई  क्या है (What is MSME ) ? 

MSME (यानी सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग) भारत की अर्थव्‍यवस्‍था में पिछले कुछ दसको में बहुत योगदान रहा है या यूँ कहा जाये की ये भारत की अर्थव्‍यवस्‍था की रीड की हड्डी है तो कोई अत्तिश्योक्ति नहीं होगी।

  • यह योजना सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों तथा स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई है, जिससे कई छोटे उद्योगों को फायदा होता है।
  • भारत सरकार ने लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं, जिनका एमएसएमई के पंजीकरण के माध्यम से बहुत कम् ब्याज दरों में लाभ उठाया जा सकता है।

देश में कई सरकारी योजनाएँ चलायी जा रही हैं जिनका उपयोग MSME के ​​पंजीकरण के बिना नहीं किया जा सकता है, इसलिए इसे MSME के तहत पंजीकृत महत्वपूर्ण है तथा सरकार भी इन उद्योगों में बहुत मदद करती है। इस लेख को पढ़ने के बाद, आप यह पता लगा पाएंगे कि MSME योजना क्या है, हम इसे कैसे पंजीकृत कर सकते हैं और उस योजना के लाभ क्या हैं।

MSME कितने प्रकार के होते हैं ?

  • सूक्ष्म उद्योग (Micro industries) – इसके अंतर्गत 1 करोड़ का निवेश करने वाले तथा जिनका टर्नओवर 5 करोड़ है, वो यूनिट एवं कंपनी आएगी।
  • लघु उद्योग (Small industries) – इसके अंतर्गत 10 करोड़ का निवेश करने वाले तथा जिनका टर्नओवर 50 करोड़ है, वो उद्योग है एवं कंपनी आएगी।
  • मध्यम उद्योग (Medium industries) – इसके अतंर्गत 20 करोड़ का निवेश करके 100 करोड़ का टर्नओवर तक पाने वाले बड़े उद्योग और कंपनी आएगी।

MSME Loan Registration के क्या लाभ हैं (Benefits of MSME Udyog Loan) ?

एमएसएमई के अंतर्गत पंजीकृत उद्योगों को अनेकों प्रकार के लाभ तथा रियायतें दी जाती हैं । जिनमें से कुछ मुख्य लाभ निम्न प्रकार से हैं:

  • बैंक ऋण सस्ता हो जाता है और ब्याज दर बहुत कम हो जाती है।
  • एमएसएमई को दिए जाने वाले विभिन्न करों में छूट दी जाती हैं।
  • इसने न्यूनतम वैकल्पिक कर (MAT) के लिए क्रेडिट को 10 वर्षों के बजाय 15 साल तक आगे ले जाने की अनुमति दी
  • कई सरकारी निविदाएं हैं जो केवल MSME इंडस्ट्रीज के लिए खुली हैं। और उनमें ऋण लेने में आसानी होती है।
  • लाइसेंस और प्रमाणन के लिए उच्च प्राथमिकता : – MSME के ​​तहत पंजीकृत व्यवसाय के अंतर्गत पंजीकृत कोई लाइसेंस या प्रमाणीकरण की आवश्यकता होती है तो उन्हें यह बड़ी ही आसानी से प्राप्त हो जाता है।

MSME पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज (Requirements Documents for MSME Loan Registration )

व्यवसाय प्रमाण का पता

  • यदि इकाई के स्वामित्व में परिसर है तो नीचे दस्तावेजों की आवश्यकता है –
      • आबंटन पत्र
      • कब्जे का पत्र
      • संपत्ति कर रसीद
  • यदि व्यवसाय के नाम पर या व्यवसाय के प्रोप्राइटर, निदेशक या भागीदार के नाम पर नगरपालिका लाइसेंस है, तो किसी अन्य कब्जे के दस्तावेज को प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं है।
  • यदि संस्था ने किराए पर परिसर लिया है, तो मकान मालिक से एनओसी के साथ एक किराया रसीद प्रस्तुत करना आवश्यक है।
  • कोई भी दस्तावेज़ जो आपके मकान मालिक के स्वामित्व के बारे में साबित करता है, उसे जमा करना होगा।

बिक्री और खरीद बिल की Copies –

  • आपको अपने द्वारा आपूर्ति किए जाने वाले हर उत्पाद से संबंधित व्यवसाय बिक्री बिल जमा करने की आवश्यकता होती है।
  • एक खरीद बिल भी आवश्यक है जो आपको आपूर्ति करने के लिए प्रत्येक कच्चे माल के लिए खरीद बिल दिखाना होगा जो आप अपने व्यवसाय के लिए खरीदते हैं।

साझेदारी विलेख (Partnership deed) –

  • यदि आपका व्यवसाय एक साझेदारी फर्म है, तो उसे भागीदारी विलेख प्रस्तुत करना होगा।
  • यदि साझेदारी फर्म पंजीकृत है, तो पंजीकरण प्रमाणपत्र भी प्रस्तुत करना आवश्यक है।

मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन और आर्टिकल्स ऑफ एसोसिएशन

  • मेमोरैंडम ऑफ एसोसिएशन (MoA) और आर्टिकल्स ऑफ एसोसिएशन (AoA) के किसी भी कंपनी कॉपी के मामले में निगमन का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।
  • सामान्य बैठक में अनुमोदित किए गए किसी भी निर्धारण की प्रति भी प्रस्तुत की जानी आवश्यक है।
  • इसके साथ ही एमएसएमई आवेदन पर हस्ताक्षर करने के लिए निदेशक को अधिकृत करने वाले बोर्ड संकल्प की एक प्रति भी प्रस्तुत करनी होगी।

औद्योगिक लाइसेंस की Copy

  • एमएसएमई पंजीकरण प्रक्रिया के लिए आवेदक को औद्योगिक लाइसेंस की प्रति प्रस्तुत करनी होगी।
  • वही भारत सरकार को आवेदन करने के बाद प्राप्त किया जा सकता है।
  • पौधों और मशीनरी की खरीद और स्थापना के लिए अन्य बिलों और प्राप्तियों की उपर्युक्त सभी दस्तावेजों की प्रतियों के अलावा मांग पर जमा करने की भी आवश्यकता हो सकती है।

आत्मनिर्भर भारत अभियान

MSME लोन रजिस्ट्रेशन (MSME Loan Registration)

MSME Loan Registration दो तरीको से किया जा सकता है ऑफलाइन और ऑनलाइन के रूप में पूरी की जा सकती है। आप अपने पंजीकरण की सुविधा अनुसार इन दोनों प्रक्रियाओं में से किसी एक का चयन कर सकते हैं।

ऑफ़ लाइन पंजीकरण (MSME Registration Offline)

  • सबसे पहले उद्योग के लिए एक आवेदन पत्र तथा उसके बाद संबंधित दस्तावेज के साथ किसी विशेषज्ञ की राय लेके एमएसएमई ऑफिस में जमा तथा पंजीकृत करा लें।
  • यह आवेदन आपको उसी जिले उद्योग केंद्र में जमा करना होगा जहाँ आपको उद्योग लगाना है ।
  • सत्यापन के बाद आवेदन स्वीकृत हो जाने के बाद आपको एमएसएमई प्रमाण पत्र जारी कर दिया जायेगा।
  • आपको कोरियर और इमेल के माध्यम से सूचित कर दिया जायेगा।

ऑनलाइन पंजीकरण (MSME Registration Online)

  • ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आपको भारत सरकार द्वारा जारी किये गए पोर्टल या लिंक Udyogaadhaar Link  पर जाकर दिए गए निर्देश के अनुसार आधार संख्या, मालिक का नाम इत्यादि को भरने के बाद आवेदन जमा कर दे। पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज व्यक्तिगत आधार संख्या, उद्योग का नाम, पता, बैंक खाता विवरण और कुछ सामान्य जानकारी है।
  • इसमें व्यक्ति स्व-प्रमाणित प्रमाण पत्र प्रदान कर सकता है।
  • इस प्रक्रिया के लिए कोई पंजीकरण शुल्क आवश्यक नहीं है।
  • एक बार डिटेल भर देने और अपलोड करने के बाद आपको रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जाएगा।
  • उसके बाद आपके पंजीकृत नम्बर या इमेल पर एक ओटीपी अर्थात यूनिक नम्बर आएगा।
  • जिसे आपको आवेदन में डालना होगा और नीचे दिए गए कैप्चा को आवेदन में डालकर इसे जमा कर दें।

MSME क्या है ?

यह योजना सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों तथा स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई है

MSME Loan Registration कैसे करें?

आप पंजीकरण २ प्रकार से कर सकते हैं ,ऑनलाइन और ऑफलाइन।

MSME कितने प्रकार की हैं ?

यह सूक्ष्म, छोटे और मध्यम तीनों श्रेणिओ में बांटा गया है

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन क्या है ?

यह छोटे / मध्यम व्यवसायों या उद्यमों (MSME) को प्रमाणित करने के लिए एक मान्यता प्रमाणपत्र और एक यूनीक नंबर प्रदान करता है।

yojanasarkari