Delhi Marriage Certificate | दिल्ली विवाह पंजीकरण 2020 | विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन पंजीकरण

Delhi Marriage Certificate | दिल्ली विवाह पंजीकरण 2020 | विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन पंजीकरण | Marriage Certificate Status |
दिल्ली विवाह पंजीकरण ऑनलाइन सर्टिफिकेट फॉर्म | Marriage Certificate Application Form

दिल्ली विवाह पंजीकरण 2020 : विवाह प्रमाण पत्र एक जोड़े के लिए एक आवश्यक दस्तावेज है। इस दस्तावेज़ से ये सत्य प्रमाणित किया जाता है की दोनों लोग कानूनी रूप से शादीशुदा हैं। इसलिए इस जरुरी दस्तवेज़ के लिए आवेदन करने के लिए आपको क्या करना चाहिए और आप कैसे आप दिल्ली विवाह पंजीकरण फॉर्म को ऑनलाइन भर सकते है आइये इस लेख के माध्यम से जानते है।

भारत में विवाह पंजीकरण

  • भारत में विवाह का पंजीकरण कराना आवश्यक है। विवाह का पंजीकरण Special Marriage Act 1955 या Hindu Marriage Act 1954 के तहत किया जाता है।
  • यदि विवाह में दोनों साथी हिंदू, बौद्ध, जैन, सिख या परिवर्तित हिंदू हैं, तो वे हिंदू विवाह अधिनियम के तहत खुद को पंजीकृत कर सकते हैं।
  • यदि कोई भी पक्ष हिंदू, बौद्ध, जैन, सिख से संबंधित नहीं है, तो ऐसी पार्टियां विशेष विवाह अधिनियम के तहत अपना पंजीकरण करा सकती हैं।
  • विवाह प्रमाण पत्र यह दिखाने के लिए निश्चित प्रमाण है कि एक युगल कानूनी रूप से विवाहित है।
  • विवाह के बाद अगर आप देश से बाहर जाने वाले हैं, तो यह 1 प्रमाण की तरह काम करता है कि युगल विवाहित है।

विवाह प्रमाण पत्र उपयोग

  • विवाह प्रमाण पत्र यह दिखाने के लिए निश्चित प्रमाण है कि एक युगल कानूनी रूप से विवाहित है।
  • विवाह के बाद अगर आप देश से बाहर जाने वाले हैं, तो यह पासपोर्ट और वीजा प्राप्त करने में 1 प्रमाण की तरह काम करता है कि युगल विवाहित है।
  • बैंक खाता खोलने के लिए विवाह प्रमाणपत्र उपयोगी होता है।
  • विरासत के अधिकार का लाभ प्रदान करने में भी मदद करता है।
  • विवाह प्रमाणपत्र पति / पत्नी की आयु की जाँच करता है।
  • बाल विवाह को प्रतिबंधित करता है।
  • धोखाधड़ी से बचा जा सकता है।

दिल्ली विवाह पंजीकरण Delhi Marriage Certificate विवाह प्रमाण पत्र नियम

  • विवाह के समय कम से कम लड़की की आयु 18 वर्ष और लड़के की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए।
  • हिंदू विवाह अधिनियम के तहत पंजीकरण में किसी भी पति या पत्नी के पास विवाह के समय एक से अधिक पति या पत्नी नहीं रह सकते हैं।
  • विशेष विवाह अधिनियम के तहत पंजीकरण में एक या अधिक पत्नियों की उपस्थिति की अनुमति है।
  • विवाह के बाद जोड़े को कम से कम 30 दिनों के लिए उस क्षेत्र में रहना होगा, जहां वो विवाह को पंजीकृत करना चाहते हैं।
  • पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए।

दिल्ली राशन कार्ड के लिए अप्लाई कैसे करे?

दिल्ली विवाह पंजीकरण (Delhi Marriage Certificate) जरुरी दस्तावेज़

  • फोटो आईडी प्रूफ – आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस या कोई अन्य सरकारी मान्यता प्राप्त दस्तावेज।
  • दस्तावेज़ जो जन्म प्रमाण की तारीख बताते हो – आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, अस्पताल की रिपोर्ट, जन्म प्रमाण पत्र, एसएससी प्रमाण पत्र
  • शादी से पहले और बाद के पते का एड्रेस प्रूफ / पते का प्रमाण – आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली बिल, पानी का बिल, गैस बिल, टेलीफोन बिल, रेंट एग्रीमेंट, बैंक पासबुक आदि दस्तावेज।
  • विवाह का प्रमाण – जोड़े के दो पासपोर्ट फोटो के साथ शादी का निमंत्रण कार्ड
  • शपथ पत्र (Affidavit)
  • गवाह का पहचान प्रमाण (आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस या कोई अन्य सरकारी मान्यता प्राप्त दस्तावेज।)
  • गवाह का स्थायी पता प्रमाण (आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली बिल, पानी का बिल, गैस बिल, टेलीफोन बिल, किराया समझौता, बैंक पासबुक आदि दस्तावेज।)
  • गवाह की पासपोर्ट साइज फोटो

दिल्ली विवाह पंजीकरण (Delhi Marriage Certificate) आवेदन शुल्क

  • हिंदू विवाह अधिनियम के तहत पंजीकरण के लिए  – 100/- रुपये
  • विशेष विवाह अधिनियम के तहत पंजीकरण के लिए – 150/- रुपये
  • तत्काल विवाह प्रमाण पत्र : 10,000 रुपये की लागत से तत्काल सेवा के तहत एक दिन के भीतर विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते है।

दिल्ली विवाह पंजीकरण (Delhi Marriage Certificate) आवेदन प्रकिया

विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने के दो तरीके हैं – ऑफलाइन और ऑनलाइन

ऑनलाइन विवाह प्रमाण पत्र

  • दिल्ली विवाह पंजीकरण फॉर्म भरना के लिए सबसे पहले दिल्ली ई-डिस्ट्रिक्ट की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं – अधिकारिक वेबसाइट

  • अब यहाँ आपको लॉगिन करना होगा।
  • अगर इस वेबसाइट पर आप पहले से पंजीकृत नहीं है तो पहले आपको पंजीकरण करना होगा।
        पंजीकरण करने के लिए –
  • होम पेज पर आप New User के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने 1 नया पेज खुलेगा।
  • आपके सामने Citizen Registration Form आ जायेगा।

  • अब आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा, यहाँ आपको कुछ जानकारी उपलब्ध कराकर पंजीकरण करना होगा।
  • सफल पंजीकरण के बाद आधिकारिक वेबसाइट पर लॉगिन करें।
         लॉगिन करने के लिए
  • होम पेज पर आप Registered User Login के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने 1 नया पेज खुलेगा।
  • आपके सामने Citizen Login Form आ जायेगा।

  • लॉगिन फॉर्म में आपको Username और Password डालना होगा।
  • उससे आप आसानी से दिल्ली ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

अधिक जानकारी के लिए दिल्ली e-district पोर्टल रजिस्ट्रेशन 2020 देखे

         विवाह प्रमाण पत्र अप्लाई के लिए
  • लॉगिन करने के बाद आपके सामने डैशबोर्ड खुलेगा।
  • डैशबोर्ड पर हेडर मेन्यू में दिए गए ‘Apply Online’ ऑपशन में ‘Apply For Sevices’ ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने 1 नया पेज खुलेगा।
  • बहुत सी सेवाओं के विकल्प नजर आएंगे, जिनमें से आप ‘Registration of Marriage’ पर क्लिक करे।
  • जिसके बाद आपकी स्क्रीन पर विवाह पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र आएगा।
  • फॉर्म में सही विवरण दर्ज करें।
  • आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  • अंत में क्लिक ‘Submit’ विकल्प के द्वारा आवेदन पत्र जमा करें और आगे की प्रक्रिया के लिए प्रिंट-आउट लेना याद रखें।
         Appointment” के लिए
  • होम पेज पर ‘Make Appointment With DM’ पर क्लिक करें और लॉगिन करे।
  • उसके बाद अपना जिला चुनें और Continue पर क्लिक करें।
  • उसके बाद पूछी गयी सारी डिटेल भरें।
  • फिर ‘Registration of Marriage Certificate’ ऑपशन पर क्लिक करें और पूछी गयी सारी जानकरी भरें।
  • उसके बाद Appointment की तारीख चुनें।
  • आपको आवेदन फीस जमा करवाएं। आप आवेदन शुल्क ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से जमा करवा सकते है।
  • Appointment लेने के बाद आपको आवेदन पत्र जमा करवा दे।
  • Appointment की तय तारिख के अनुसार डीएम ऑफिस जाएं।
  • वेरिफिकेशन के लिए अपने साथ मांगे गए दस्तावेजों की ऑरिजनल कॉपी और फोटो कॉपी साथ लेकर जाएं।
  • जिला अधिकारी कार्यलय में आपके साथ दोनों गवाहों का होना भी आवश्यक है।
  • गवाहों के पास उनके आधार कार्ड और पासपोर्ट साइज फोटो हों।
  • वेरिफिकेशन होने के बाद आपको डीएम के सामने पेश होना होगा, जिसके बाद पति पत्नी और दोनों गवाहों के साइन होंगें।
  • पति पत्नी की फोटो भी खिंची जाएगी।
  • आवेदन जमा होने के 21 दिन बाद आवेदक को उसका मैरिज सर्टिफिकेट मिल जाएगा।

ऑफलाइन विवाह प्रमाण पत्र

  • दिल्ली विवाह पंजीकरण फॉर्म भरना के लिए सबसे पहले दिल्ली ई-डिस्ट्रिक्ट की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं – अधिकारिक वेबसाइट
  • इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आप Download के ऑप्शन पर क्लिक करे।

  • इसके बाद 1 पेज खुलेगा जहाँ आपको Application Forms के लिंक पर क्लिक करना होगा।

  • Registration of Marriage के लिंक पर क्लिक करे।

  • फिर इसमें सारी जानकारी सही से भरकर उप मंडल मजिस्ट्रेट के कार्यालय में जमा करवा दे।
  • आवेदन के साथ सत्यापन हेतु सभी दस्तावेजों को भी जमा करें।
  • अब “Appointment” के लिए एक नई तारीख और पंजीकरण के लिए पति / पत्नी को विभाग के माध्यम से सूचित किया जायेगा।

दिल्ली विवाह पंजीकरण (Delhi Marriage Certificate) Helpline Number

Telephone – 011-2393-5730 / 2393-5731 / 2393-5732 / 2393-5733 / 011-23935734 और  8847709064
Email – edistrictgrievance@gmail.com

हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है।
अगर आपको ये जानकारी सही लगे तो दूसरो के साथ भी साँझा कीजिये।
कोई त्रुटि हो तो हमे जरूर बताए।

Priya