हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा | Haryana Meri Fasal Mera Byora | Portal Registration 2020 | Register Online Crops Details|
मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल | ऑनलाइन पंजीकरण 2020

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 5 जुलाई 2019 को “हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल 2019” की शुरुआत की थी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर डिजिटलीकरण को अधिक से अधिक बढ़ावा देने के लिए कृषि व किसान कल्याण विभाग के साथ फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज कराने के लिए यह योजना शुरू की है।

सीएम ने किसानों से फसल बुवाई के बारे में अपना विवरण अपलोड करने और अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) या अटल सेवा केंद्रों पर 31 जुलाई तक मेरी फसल मेरा ब्यौरा का ऑनलाइन पंजीकरण करने का आग्रह किया है।

Update – हरियाणा सरकार द्वारा लॉन्च ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल” के माध्यम से किसानों की फसलों का विवरण ऑनलाइन पंजीकृत (Register Online Crops Details) किया जाएगा। राज्य के सभी किसान 15 सितंबर 2020 से इस पोर्टल पर अपनी खरीफ फसलों का विवरण पंजीकृत कर पाएंगे। राज्य सरकार द्वारा दिनांक 7 अप्रैल 2020 को सायं 5 बजे से ‘हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा’ को पुनः पंजीकरण हेतु खोल दिया गया है।

खरीफ फसलों के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए ये सभी विवरण या तो वीएलई द्वारा या किसानों द्वारा ही भरे जा सकते हैं। इस पोर्टल पर प्राप्त जानकारी को किसानों और कृषि और किसान कल्याण विभाग के साथ साझा किया जा सकता है। किसानों द्वारा अपलोड की गई सभी जानकारी का उपयोग किसी अन्य कानूनी दावे में नहीं किया जा सकता है। पटवारियां जमाबंदी से संबंधित आंकड़े साझा करेंगी। इस प्रक्रिया से फसलों की खरीद प्रक्रिया में आसानी होगी।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा मुख्य तथ्य –

इस योजना के प्रमुख तथ्य इस प्रकार है:-

  • सभी पंजीकृत किसानो की फसल को सरकार निर्धारित समर्थन मूल्य पर खरीदेगी।
  • कृषि विभाग सभी किसानों को 5रु प्रति खेवट की दर से भुगतान करेगी।
  • इसके साथ ही पोर्टल पर सभी पंजीकृत किसानो को 10 रुपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
  • गाँवो में सभी किसान कॉमन सर्विस सेंटर्स के द्वारा ऑनलाइन फसल विवरण दर्ज करेंगे।
  • प्रोत्साहन राशि का ई-भुगतान सीधे बैंक खाते में किया जायेगा।

हरियाणा मेरी फैसल मेरा ब्यौरा – उद्देश्य

राज्य सरकार ने किसानों के फसल पंजीकरण के लिए और निम्नलिखित उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए मेरी फैसल मेरा ब्यौरा पोर्टल लॉन्च किया है: 

  • किसानों को प्राकृतिक आपदा के समय जरूरी सहायता प्रदान की जाएगी।
  • हरियाणा सरकार यह सुनिश्चित करेगी की सभी किसानो की फसलों को पूर्व निर्धारित समर्थन मूल्य पर ख़रीदा जाए।
  • किसानो को कृषि संबंधित जानकारियाँ समय पर उपलब्ध करवा सकेंगे।
  • खाद्य ,बीज ,ऋण एवं कृषि उपकरणों सब्सिडी पर उपलब्ध कराये जायेंगे।
  • फसल की बिजाई-कटाई के सही समय की जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • एक ही जगह पर सारी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा का लाभ –

किसान राज्य सरकार द्वारा दिए जा रहे विभिन्न लाभों का लाभ उठा सकते हैं जो निम्नलिखित है:-

  • बीमा रक्षण
  • प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल क्षति के कारण मुआवजा
  • विभिन्न योजनाओं के तहत वित्तीय सहायता

पोर्टल की विशेषताएं

  • इस पोर्टल के द्वारा किसानों की फसलों की खरीद प्रक्रिया आसान होगी साथ ही वह न्यूनतम समर्यन मूल्यों पर अपनी फसलों को बेच पाएंगे।
  • पटवारी द्वारा जमाबंदी सम्बन्धी सूचना भी साझा की जाएँगी।
  • आप अपने निकट के सीएससी सेंटर पर जाकर फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करा सकते है।
  • सभी किसानों को एक ही पोर्टल पर फसल सुरक्षा, मंडी भाव, प्राकृतिक आपदाओं के समय सहायता आदि लाभ प्राप्त हो सकेंगे।
  • हरियाणा के राजस्व विभाग ने भूमि रिकार्ड डाटा को मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल के साथ एकीकृत कर दिया है।
  • समयानुसार बोई जाने वाली फसलों की जानकारी प्रदान करने तथा विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र किसानों को देने के लिए प्रदेश सरकार ने राज्य स्तरीय फसल ई-सूचना नामक वैब पोर्टल लॉन्च किया है।

हरियाणा मेरी फैसल मेरा ब्यौरा – ऑनलाइन पंजीकरण

किसानों के फसल विवरण (ई-खरीद) का ऑनलाइन पंजीकरण करने की पूरी प्रक्रिया नीचे दी गई है।
यहां किसान खरीफ फसलों के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं और फसल विवरण प्रस्तुत कर सकते हैं: –
1) सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं – मेरी फसल मेरा ब्यौरा वेबसाइट
2) होमपेज पर, चित्र में दिखाए अनुसार “पंजीकरण (क्लिक करें)” लिंक पर क्लिक करें: –

3) पंजिकरण पर क्लिक करने के बाद, आप एक पृष्ठ पर जाएँगे जहाँ आपको मोबाइल नंबर, आधार संख्या या परिवार की आईडी भरनी होगी।
डायरेक्ट लिंक (Direct Link) के लिए यहाँ क्लिक करे – Online Registration of Crops

बाद में, ओटीपी दर्ज करें और नीचे दिए गए अनुसार किसानों के पंजीकरण फॉर्म को खोलने के लिए “जारी रखें” बटन पर क्लिक करें: –

इसके बाद अंतिम चरण में किसान को अपनी सभी पूछी गई जानकारी तथा फसल सम्बन्धी विवरण उपलब्ध कराकर सबमिट पर क्लिक करना है।
इस प्रकार आपका ऑनलाइन आवेदन पूरा हो जायेगा।

हरियाणा मुफ्त लैपटॉप वितरण योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
प्रधानमंत्री कुसुम योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।

हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है।
अगर आपको ये जानकारी सही लगे तो दूसरो के साथ भी साँझा कीजिये।
कोई त्रुटि हो तो हमे जरूर बताए।

Priya