मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना 2021: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना | आर्थिक कल्याण योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | आर्थिक कल्याण योजना आवेदन की स्थिति | आर्थिक कल्याण योजना ऑफलाइन अप्लाई |

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना- मध्य प्रदेश सरकार द्वारा एक योजना का संचालन किया गया है। जिसका नाम मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना है | इस योजना को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया है | आज हम अपने इस लेख के माध्यम से आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं। जैसे कि आर्थिक कल्याण योजना क्या है?,इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया, विशेषताएं आदि। यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना

मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा आर्थिक कल्याण योजना का आरंभ किया गया है जिसका मुख्य उद्देश्य है अनुसूचित जाति दरों को भी दिया श्रेणी के लोगों को कम लागत के उपकरण तथा वित्तीय साहयता दी जाये ताकि इस वित्तीय साहयता के माध्यम से राज्य के नागरिक अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर पाएं। राज्य के सभी अनुसूचित जाति के बी.पी.एल श्रेणी के युवाओ को ’’ जानना जरुरी है की “आर्थिक कल्याण योजना’’ की पूरी लागत 50,000 रुपय हैं

जिसमें से लाभार्थियो को 15,000 रुपयो की आर्थिक सहायता दी जाएगी और पिछड़े वर्ग की महिलाओ व नि-शक्तजनो को भी योजना के तहत कुल लागत का 50 प्रतिशत के हिसाब के 15,000 रुपयो की आर्थिक सहायता दी जाएगी | सरकार का मानना है की इस आर्थिक कल्याण योजना के माध्यम से राज्य की बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी तथा प्रदेश के बेरोजगार नागरिक आत्मनिर्भर व् सशक्त बन पाएंगे । इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश के नागरिकों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना का विवरण

योजना का नाम मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना
द्वारा लांच की गई मध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थी मध्य प्रदेश के नागरिक
उद्देश्य नागरिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
परियोजना लागत Rs 50,000

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना कार्यान्वयन

योजना पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग, कुटीर और ग्रामोद्योग विभाग, पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, शहरी विकास और आवास विभाग, अनुसूचित जाति कल्याण विभाग, आदिम जाति कल्याण विभाग और अस्वीकृत घुमक्कड़ और अर्ध-घुमक्कड़ आदिवासी कल्याण विभाग द्वारा कार्यान्वित की जाएगी। । इस योजना के तहत, कमजोर पूंजी वाले नागरिकों को अपना उद्योग स्थापित करने के लिए कार्यशील पूंजी या कम लागत वाले उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे। इस योजना का लाभ अधिक से अधिक नागरिकों को दिया जाएगा। आवेदन सभी विभागों को प्राप्त होंगे, जिसके बाद इन आवेदनों का सत्यापन किया जाएगा। सत्यापन के बाद, आवेदकों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना का उद्देश्य

आर्थिक कल्याण योजना के कुछ बेहद महत्वपूर्ण उद्धेश्य-:

  • सभी अनुसूचित जातियो के तहत आने वाले बी.पी.एल श्रेणी के लोगो का सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण करना है |
  • इन लोगो को अपना स्वरोजगार करने के लिए आर्थिक सहायता देना है |
  • इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश की बेरोजगारी दर में गिरावट आएगी और सभी बेरोजगार नागरिक आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • इन लोगो को इस योजना के माध्मय से समाज में, मान्यता देना है |
  • इन लोगो को इस योजना के मध्यम से समाज की मुख्यधारा के साथ जोड़कर इनका सर्वांगिन विकास करना है।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के लाभार्थी

  • केश शिल्पी
  • स्ट्रीट वेंडर
  • हाथ ठेला चालक
  • साइकिल रिक्शा चालक
  • कुम्हार

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना की कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • आर्थिक कल्याण योजना के कार्यान्वयन के लिए प्रत्येक विभाग द्वारा अपने विभागीय बजट में प्रावधान किया जाएगा।
  • तदनुसार, इस योजना के तहत लक्ष्य तय किया जाएगा और यह प्रयास किया जाएगा कि परियोजना लागत की अधिकतम राशि 50% से अधिक हो।
  • आर्थिक कल्याण योजना की नोडल एजेंसी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विभाग होगी।
  • इस योजना के कार्य और योजना के मसौदे को संबंधित विभाग द्वारा अनुमोदित किया जाएगा।
  • इस योजना के लिए मंत्रिपरिषद की स्वीकृति की आवश्यकता नहीं है।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • यह योजना मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई है।
  • इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं।
  • आवेदन करने के लिए किसी सरकारी कार्यालय का दौरा करने की आवश्यकता नहीं है।
  • इस योजना के तहत, BPL श्रेणी के गरीब नागरिकों को कम लागत के उपकरण और कार्यशील पूंजी प्रदान की जाएगी।
  • यह सहायता राज्य के नागरिकों को अपना व्यवसाय स्थापित करने के लिए दी जाएगी।
  • इस योजना से राज्य की बेरोजगारी दर में कुछ हद तक कमी आएगी।
  • राज्य के बेरोजगार नागरिक आर्थिक कल्याण योजना के माध्यम से आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • इस योजना के माध्यम से, राज्य के नागरिकों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा।
  • आर्थिक कल्याण योजना के तहत 50000 रूपए तक की राशि प्रदान की जाएगी।
  • आर्थिक कल्याण योजना के तहत, परियोजना लागत का 15% सामान्य वर्ग के लिए और 50% परियोजना लागत BPL, SC, ST और अन्य पिछड़े वर्गों के लिए प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की आयु 18 से 55 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • यदि आवेदक किसी और स्वरोजगार योजना का लाभ न उठा रहा हो |
  • आवेदक किसी भी राष्ट्रीय कृत बैंक या फिर वित्तीय संस्था, सहकारी संस्था का डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना

आर्थिक कल्याण योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

  • सबसे पहले आपको  आर्थिक कल्याण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको आर्थिक कल्याण योजना के अंतर्गत आवेदन करें के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर विभागों की सूची आएगी।
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार विभाग का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको साइनअप के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको मांगी गयी सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपकी ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, पासवर्ड आदि भरना होगा।
  • उपरोक्त सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपको साइन अप नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

पोर्टल पर लॉगिन कैसे करें ?

  • सबसे पहले आपको आर्थिक कल्याण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको  आर्थिक कल्याण योजना के अंतर्गत आवेदन करें के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर विभागों की सूची आएगी।
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार विभाग का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको योजना का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपको मोबाइल नंबर तथा पासवर्ड भरना होगा।
  • उपरोक्त सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

आर्थिक कल्याण योजना आवेदन की स्थिति कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको आर्थिक कल्याण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको आर्थिक कल्याण योजना के अंतर्गत आवेदन करें के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर विभागों की सूची आएगी।
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार विभाग का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा ।
  • आपको ट्रेक एप्लीकेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अपना एप्लीकेशन नंबर भरना होगा।
  • उपरोक्त सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपको गो के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी स्क्रीन पर होगी |

आर्थिक कल्याण योजना ऑफलाइन अप्लाई कैसे करें ?

  • सबसे पहले आपको आर्थिक कल्याण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा।
  • आपको “आर्थिक कल्याण योजना” में “अधिक देखें” पर क्लिक करना होगा
  • इसके बाद आपको “डाउनलोड प्रपत्र 1” पर क्लिक करके फॉर्म डाउनलोड करना होगा और उस फॉर्म को ध्यानपूर्वक पूरा भरना होगा।
  • इसके बाद आपको “डाउनलोड प्रपत्र 2” पर क्लिक करके फॉर्म डाउनलोड करना होगा और उसको भी ध्यानपूर्वक पूरा फॉर्म भरना होगा।
  • आवेदन फॉर्म भरने के बाद, इसके साथ सभी आवश्यक दस्तावेज़ की फोटोकॉपी संलग्न करकेमुख्य कार्यपालन अधिकारी, कार्यपालन अधिकारी तथा जिला इंटरमीडिएट सहकारी विकास समिति में जमा कर दे |

इसके बाद, आपके आवेदन फॉर्म को चयन समिति के पास पहुंचाया जाएगा। जिसके बाद, समिति इस फॉर्म की जांच करेगी और जांचने के बाद, समिति फॉर्म को बैंक में भेज देगी। अगर आपके आवेदन फॉर्म में सभी जानकारी ठीक हुई तो बैंक द्वारा आवेदन की प्राप्ति के 30 दिनों के अंदर स्वीकृति दे दी जाएगी। बैंक द्वारा पास होने के बाद, आवेदक को 15 दिन के अंदर आर्थिक सहायता पंहुचा दी जाएगी।

हेल्पलाइन नंबर

यदि आप किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके या फिर ईमेल लिखकर अपनी समस्या का समाधान ले सकते हैं।

निष्कर्ष

मध्य प्रदेश सरकार ने आर्थिक कल्याण योजना का आरंभ किया है जिसका मुख्य उद्देश्य है अनुसूचित जाति के श्रेणी के लोगों को कम लागत के उपकरण तथा पैसे उपलब्ध करवाया जाए ताकि गरीब लोग भी कोई नया व्यवसाय शुरू कर सकें और उनकी आर्थिक गरीबी दूर हो |

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। किसी भी अन्य योजना के अधिक विवरण के लिए YojanaSarkari पर हमारे साथ जुड़े रहें, धन्यवाद।

 

 

Leave a Comment

23 − = 22