प्रधानमंत्री कुसुम योजना- कैसे करे आवेदन?|Kusum Yojana, How to apply online 2020 |Online Registration

प्रधानमंत्री कुसुम योजना | Kusum Yojana|kusum yojna| How to apply for kusum yojna online 2020 |kusum yojna Online Registration

केंद्र सरकार देश के किसानों को स्थायी लाभप्रदता प्रदान करने के लिए कई योजनाएं शुरू कर रही है। इन्ही में से 1 योजना है प्रधानमंत्री कुसुम योजना। प्रधानमंत्री कुसुम योजना की मदद से सरकार भारत की सिंचाई प्रणाली के साथ-साथ सौर ऊर्जा उत्पादन को बढ़ावा देने की योजना बना रही है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना का उद्देश्य भारत के किसानों को अतिरिक्त आय स्रोत प्रदान करना है। कुसुम योजना से निश्चित रूप से सौर ऊर्जा के उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा। सरकार सौर ऊर्जा पंपों के साथ 3 करोड़ से अधिक डीजल और पेट्रोल पंपों को बदलेगी।
इस योजना को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने केंद्रीय बजट 2018-19 के दौरान घोषित किया था।

केंद्र सरकार की कुसुम योजना के जरिये किसान अपनी जमीन में सौर ऊर्जा उपकरण और पंप लगाकर अपने खेतों की सिंचाई कर सकते हैं। कुसुम योजना की मदद से किसान अपनी भूमि पर सोलर पैनल लगाकर इससे बनने वाली बिजली का उपयोग खेती के लिए कर सकते हैं।

कुसुम एक लंबी अवधि की महत्वाकांक्षी योजना है, लक्ष्य सोलर पंप और सोलर उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रारंभिक बजट 50 हजार करोड़ रुपयों का आवंटन किया गया है। योजना की 60% लागत सरकार सब्सिडी के रूप में देगी।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना का उद्देश्य

  • इस योजना का पूरा नाम किसान ऊर्जा सुरक्षा व उत्थान महाअभियान (कुसुम) है।
  • कुसुम योजना के तहत देश के तीन करोड़ पंपों को सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा।
  • कुसुम योजना की लागत 1.40 लाख करोड़ रुपये है।
  • किसानों को कुल लागत का सिर्फ 10 फीसद ही देना होगा।
  • इस योजना के पहले चरण में डीजल से चल रहे 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा।
  • इसमें केंद्र सरकार 48 हजार करोड़ रुपये और इतनी ही राशि राज्य सरकारें देंगी।
  • 2022 तक देश में तीन करोड़ पंपों को बिजली या डीजल की जगह सौर ऊर्जा से चलाने का लक्ष्य रखा गया है।

कुसुम योजना के लाभ

  • किसानों को सोर ऊर्जा यंत्र को लगाने के लिए सिर्फ़ 10% राशि का भुगतान करना होगा।
  • इस योजना से 28 हजार मेगावाट अतिरिक्त बिजली का उत्पादन होगा।
  • किसानों को सीधे उनके बैंक खातों में सब्सिडी मिलेगी।
  • इस योजना से बंजर भूमि का उपयोग होगा।
  • इस योजना से सोर ऊर्जा को अधिक बड़ावा मिलेगा।
  • बैंक किसानों को ऋण के रूप में कुल खर्च का 30% हिस्सा मुहैया कराएगी।
  • सरकार किसानों को सब्सिडी के रूप में यंत्र की कुल लागत का 60% हिस्सा प्रदान करेगी।
  • डीजल और पेट्रोल की खपत कम होगी।

योजना के लिए आवेदन

  • सबसे पहले आवेदन के लिए कुसुम योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर आवेदन करें पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आप पोर्टल के होमपेज पर रेफ़्रेन्स नंबर के साथ लॉग इन करे।
  • किसान को होम पेज पर दिखाई दे रहे “अप्लाई” बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको कुसुम योजना का फॉर्म दिखाई देगा।
  • इस फॉर्म में अपनी सही जानकारी भरे जैसे किसानों के नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल पता और अन्य जानकारी।
  • सारी जानकारी देने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करे।
  • “सफलतापूर्वक पंजीकृत” बताते हुए संदेश प्राप्त होगा।
  • आवेदन पूरी तरह से पूर्ण हो चुका है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के लिए योग्यता

  • सबसे पहले तो आवेदन कर्ता किसान होना चाहिए !
  • आवेदन कर्ता के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है ।
  • किसान के पास बैंक एकाउंट होना जरूरी है ।

योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • आय प्रमाण पत्र
  • पते का प्रमाण

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के लिए सब्सिडी आबंटन

  • केंद्र सरकार – सब्सिडी के रूप में कुल लागत का 60%
  • बैंक द्वारा – किसानों को ऋण के रूप में कुल लागत का 30%
  • किसान द्वारा – कुल लागत का 10%

केंद्र सरकार की कुसुम योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप इस वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं: https://mnre.gov.in

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
कन्या सुमंगला योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
प्रधानमंत्री बालिका समृद्धि योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।

हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है।
अगर आपको ये जानकारी सही लगे तो दूसरो के साथ भी साँझा कीजिये।
कोई त्रुटि हो तो हमे जरूर बताए।

Priya