अटल टनल योजना/Atal Tunnel Yojana

प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी जी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के 95वीं जयंती के मौके पर रोहतांग सुरंग को राष्ट्र को समर्पित किया और इसका नाम बदलकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के नाम पर रखा। अब इस योजना को “अटल टनल योजना” के नाम से जाना जाएगा।
अटल जल के साथ ही अटल टनल योजना को भी लॉन्च किया गया है। अटल टनल योजना के तहत मनाली से लेह तक एक टनल खोदने का काम शामिल किया जाएगा। इसे पूरा करने के लिए सरकार की तरफ से 4000 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है।

अटल टनल योजना निर्माण कार्य –

रोहतांग दर्रे के नीचे एक रणनीतिक सुरंग बनाने का निर्णय 3 जून, 2003 को लिया गया था जब अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे। टनल खोदने के काम को 2005 में स्वीकृति मिली।

लेह से मनाली तक की यह सुरंग दुनिया की सबसे लंबी सुरंग है जो 8.8 किलोमीटर लंबी और 3,000 मीटर की ऊँचाई पर है।
यह 10.5-मीटर चौड़ी सिंगल ट्यूब बाय-लेन सुरंग है, जिसमें मुख्य सुरंग में ही फायर प्रूफ इमरजेंसी सुरंग बनाई गई है।

दोनों छोर से सफलता 15 अक्टूबर, 2017 को हासिल की गई थी। उसका काम लाहौल स्फीति तक यानि 80 फीसदी तक पूरा हो गया है।

प्रकाश जावडेकर के मुताबिक टनल के बनने से मनाली और लेह के बीच की दूरी 46 किलोमीटर कम हो जाएगी और परिवहन लागत में करोड़ों रुपये की बचत होगी। और ये यात्रा के समय को पांच घंटे कम कर देगी।

योजना पर प्रधानमंत्री के शब्द –

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि “सुरंग बनने से लेह, लद्दाख और कारगिल में रहने वाले लोगों की किस्मत बदल जाएगी। यह वाजपेयी जी के जन्मदिन के अवसर पर हिमाचल प्रदेश के लोगों के लिए एक उपहार है। अटल सुरंग पर्यटन और राष्ट्रीय सुरक्षा के दृष्टिकोण से दोनों में से एक बहुत महत्वपूर्ण राष्ट्रीय सुरंग है।”

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि सुरंग वाजपेयी के विकास के दृष्टिकोण के करीब थी। “उस दिन, मैं अपनी पार्टी संगठन के लिए काम कर रहा था और इसकी तैयारियों के साथ निकटता से जुड़ा हुआ था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरे पास इसे राष्ट्र को समर्पित करने का सम्मान होगा।”

सुरंग अब पूरा होने के करीब है और हिमाचल प्रदेश और लद्दाख के सुदूर सीमा क्षेत्रों को मौसम की सभी कनेक्टिविटी प्रदान करने की दिशा में एक कदम है, जो अन्यथा सर्दियों के दौरान लगभग छह महीने तक देश के बाकी हिस्सों से कटा रहता है।

प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
अटल भूजल योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।
क्या है NRC और NPR में अंतर – जानने के लिए लिंक पर क्लिक करे।
प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।

हमारी इस वेबसाइट का उद्देश्य आप तक सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओ की जानकारी पहुँचाना है।
अगर आपको ये जानकारी सही लगे तो दूसरो के साथ भी साँझा कीजिये। कोई त्रुटि हो तो हमे जरूर बताए।

Priya